National

वापस नहीं होगा #CAA, केंद्र सरकार इस पर अडिग: केंद्रीय मंत्री नकवी

Hydrabad: संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन चल रहा है. इन विरोध प्रदर्शनों के बीच भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रविवार को कहा कि यह संशोधित कानून वापस नहीं होगा और सरकार इस पर अडिग है.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ेंः#स्वामी_विवेकानंद प्रतिमा : रघुवर की उपलब्धि पर हेमंत का तंज, ‘बनाने से कोई फायदा नहीं हुआ’

‘भारत में मुस्लिम मजबूती के साथ रहते हैं ना कि मजबूरी से’

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा, ‘ हम सीएए के मौजूदा रूप में कोई बदलाव नहीं करने जा रहे हैं. वे लोग जो भयावह घटनाओं के साथ इसका विरोध कर रहे हैं, उन्हें यह समझने की जरूरत है कि इस पर कोई विचार नहीं होगा.’

सीएए, एनआरसी के खिलाफ देशभर में हो रहे प्रदर्शन (फाइल फोटो)

उन्होंने कहा कि संसद द्वारा पारित कानून को सभी राज्यों में लागू करना पड़ेगा. इसको लेकर कोई किंतु-परंतु नहीं होगा. जम्मू-कश्मीर समेत देश के सभी हिस्सों में यह कानून लागू होगा.’

Samford

नकवी ने कहा, ‘ मैं भारत के मुस्लिमों और प्रत्येक व्यक्ति को आश्वस्त करना चाहता हूं कि उनका सामाजिक, आर्थिक, धार्मिक और संवैधानिक अधिकार सुरक्षित हैं.’

उन्होंने आगे कहा कि भारत के मुस्लिम देश में ‘मजबूती’ के साथ रह रहे हैं न कि ‘मजबूरी’ से.

इसे भी पढ़ेंःगिरिडीह में #CAA के समर्थन में निकाली गयी रैली के दौरान पथराव, भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती

विरोध के स्वर दबा नहीं सकती सरकार- येचुरी

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा है कि विवादास्पद नागरिकता कानून, एनआरसी और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) का विरोध करने वालों की आवाजों को कुचला नहीं जा सकता. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पश्चिम बंगाल के दौरे के दौरान प्रदर्शनों की सराहना की.

येचुरी ने ट्वीट किया, ‘‘भेदभाव वाले सीएए-एनआरसी-एनपीआर का विरोध करने वालों की आवाज को कुचला नहीं जा सकता.’’

माकपा नेता ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री संपर्क से दूर हैं और सोचते हैं कि वह इससे दूर रह सकते हैं. वह नहीं रह सकते. भारत के युवा आ चुके हैं और इस देश को आगे ले जाएंगे.’’

बता दें कि ‘मोदी वापस जाओ’, ‘भाजपा मुर्दाबाद’ नारे वाली तख्तियां लेकर उतरे कार्यकर्ता कोलकाता के एसप्लानेड इलाके में शनिवार को पूरी रात धरने पर बैठे रहे थे.

इसे भी पढ़ेंः#GoodNews: कॉलेज छात्राओं की फीस अब राज्य सरकार देगी, निदेशालय ने सभी विवि से मांगी छात्राओं की सूची

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: