Chatra

कश्मीर से 370 और 35A हटाकर मोदी ने पूरे देश से आतंकवाद के खात्मे का श्रीगणेश किया: अमित शाह

Chatra: झारखंड विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग के लिए गुरुवार को प्रचार का शोर समाप्त हो गया. प्रचार के आखिरी दिन पार्टी के दिग्गजों ने प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार किया.

वहीं केन्द्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को चतरा में चुनावी सभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने दावा किया कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35A हटाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरे देश से आतंकवाद के खात्मे का श्रीगणेश किया है.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: पहले चरण का थमा प्रचार, 189 प्रत्याशी हैं तैयार

आतंकवाद के खात्मे का श्रीगणेश-शाह

शाह ने कहा, ‘भारतीय जनता पार्टी से भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए हटाकर पूरे देश से आतंकवाद के खात्मे का श्रीगणेश किया है.’

उन्होंने जनता से पूछा, ‘देश सलामत रहे इसकी झारखंड वालों की जिम्मेदारी है कि नहीं है? आप चाहते हैं या नहीं कि देश सलामत रहे? दस साल तक मौनी बाबा मनमोहन सिंह की सरकार थी. पाकिस्तान से आलिया, मालिया, जमालिया घुस जाते थे. बम धमाके करते थे. सरकार मौन खड़ी रहती थी.’

शाह ने कहा, ‘नरेन्द्र मोदी सरकार आयी, उरी में किया, पुलवामा में किया, दस ही दिन के अंदर एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक कर के पाकिस्तान में घर में घुसकर आतंकवादियों का खात्मा करने का काम नरेन्द्र मोदी की सरकार ने किया.’

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस पिछले 70 सत्तर साल से आतंकवाद की जड़ अनुच्छेद 370 और 35ए को वोट बैंक की राजनीति के लिए संभाल कर रखे हुए थी.’’

लेकिन जैसे ही आप ने नरेन्द्र मोदी जी को झारखंड की 14 में से 12 सीटें दे दीं. भाजपा की बहुमत की सरकार बनी. वह प्रधानमंत्री बने और पांच अगस्त को नरेन्द्र मोदी जी ने अनुच्छेद 370 और 35 ए को खत्म कर दिया.

शाह ने कहा, ‘‘ऐसा करके नरेन्द्र मोदी की सरकार ने देश से आतंकवाद के खात्मे की शुरुआत कर दी. लेकिन कांग्रेस कहती है कि झारखंड का क्या लेनदेन 370 से? मुझे बतायें युवा कश्मीर हमारा है या नहीं है? कश्मीर भारत का हिस्सा है या नहीं है?’’

उन्होंने दो टूक कहा, ‘‘सुन लो राहुल गांधी झारखंड की जनता कहती है, कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और वह भारत के साथ है और उसे भारत से कोई छीन नहीं सकता है, यह झारखंड वालों का संकल्प है.’’

इसे भी पढ़ेंः#Ranchi: संजीवनी बिल्डकॉन घोटाले मामले में ईडी ने करोड़ों रुपये की प्रॉपर्टी जब्त की

कांग्रेस ने मामलों को अटकाया

कांग्रेस पर जबर्दस्त हमला बोलते हुए अमित शाह ने आरोप लगाया कि पार्टी नीत सरकारों ने जातपात एवं धर्म की राजनीति के कारण दशकों तक इस विवाद को लटकाये रखा, इसका समाधान नहीं हुआ.

नरेन्द्र मोदी सरकार की प्रशंसा करते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि केन्द्र में जैसे ही मोदी की सरकार बनी, मामले की पैरवी की गयी और अयोध्या में गगनचुंबी राम मंदिर बनाने के पक्ष में फैसला आ गया.

शाह ने कहा, ‘पूरे देश की जनता चाहती थी कि अयोध्या में प्रभु श्रीराम का भव्य मंदिर बने. पूरे देश के साथ झारखंड की जनता भी ऐसा ही चाहती थी लेकिन मंदिर बनाने का रास्ता क्यों नहीं प्रशस्त हो पाता था?’

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी रोड़े अटकाती रही कि अदालत में मुकदमा ना चले. कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल निर्लज्ज होकर देश की सर्वोच्च अदालत में कह रहे थे कि अभी मुकदमे की सुनवाई अभी ना करें, 2019 के बाद करें. क्यों नहीं करें सुनवाई? इतने साल से मुकदमा लटका पड़ा है. प्रभु श्रीराम तिरपाल के नीचे बैठे हुए हैं, मुकदमा क्यों नहीं चलाना?’

शाह ने कहा, ‘मुकदमे की सुनवाई होनी चाहिए या नहीं अब यह पुराना सवाल है. मित्रों मैं आपको बताने आया हूं कि मुकदमे की सुनवाई हुई. और न्यायालय ने सर्वसम्मति से फैसला सुना दिया कि प्रभु श्रीराम का गगनचुंबी भव्य मंदिर बनने जा रहा है.’

इसे भी पढ़ेंःरघुवर सरकार ने हाथी उड़ा दिया, हमने तो तैरते ही देखा है : भूपेश बघेल

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: