JharkhandMain SliderRanchi

उप चुनाव : जीत के दावे के साथ प्रचार के अंतिम दिन कांग्रेस ने जोरदार तरीके से किया जनसंपर्क अभियान

Ranchi : झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सह वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने कहा है कि बेरमो और दुमका विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस-झामुमो गठबंधन प्रत्याशी की जीत को लेकर कोई संशय नहीं है. बल्कि इस बात का आकलन किया जा रहा है कि दोनों सीटों से कितने अधिक वोट और रिकॉर्ड मतों के अंतर से जीत होती है.

प्रदेश अध्यक्ष के साथ ही विधायक दल के नेता सह ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता तथा कृषि मंत्री बादल पत्रलेख समेत प्रदेश पदाधिकारी, मोर्चा संगठनों, वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्त्ताओं की पूरी टीम ने बेरमो और दुमका विधानसभा उपचुनाव प्रचार के अंतिम दिन जोरदार तरीके से जनसंपर्क अभियान चलाया गया.

पार्टी नेताओं की ओर से कई चुनावी सभाओं को संबोधित किया गया, बाइक रैली निकाली गयी और रोड शो समेत अन्य माध्यमों से जनसंपर्क अभियान चलाकर कांग्रेस और महागठबंधन प्रत्याशी के पक्ष में वोट देने की अपील की गयी.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ेंः भारत में लगातार तीसरे दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या छह लाख से कम

The Royal’s
Sanjeevani

बैठक कर चुनावी रणनीति पर चर्चा की

प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रामेश्वर उरांव ने चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बेरमो विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी कुमार जयमंगल उर्फ अनूप सिंह के पक्ष कई छोटी-बड़ी सभाओं को संबोधित किया. प्रदेश अध्यक्ष ने उपचुनाव की रणनीति और मतदान के दिन अधिक से अधिक मतदाताओं को घर से निकाल कर मतदान केंद्रों तक पहुंचाने को लेकर बूथ स्तरीय कार्यकर्त्ताओं के साथ बैठक कर चुनावी रणनीति पर चर्चा की.

उन्होंने कहा कि जिस तरह से गैर भाजपा शासित राज्यों के साथ केंद्र सरकार द्वारा पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाया जा रहा है, उसे आम लोगों की खासी नाराजगी है. उपचुनाव में क्षेत्र के मतदाता भाजपा को सबक सिखाएंगे.

इसे भी पढ़ेंः तीन लाख अमीर लोग उठा ले रहे हैं गरीबों का राशन, विभाग ने शुरू की कार्रवाई

कहा- रोजगार उपलब्ध कराने का हर संभव प्रयास किया

कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि कोरोना संक्रमण में भी राज्य सरकार ने हर प्रवासी नागरिकों की घर वापसी और बाद में उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने में अपनी ओर से हरसंभव प्रयास किया.

मनरेगा के माध्यम से राज्य सरकार की ओर से श्रमिकों को उनके गांव-पंचायत में ही रोजगार मुहैया कराया जा रहा है, राज्य में प्रतिदिन करीब दस लाख मानव दिवस सृजन का निर्णय लिया गया है. कृषिमंत्री बादल ने भी रविवार को बोकारो थर्मल में कार्यकर्त्ताओं के साथ बैठक की और कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में व्यापक जनसंपर्क अभियान चलाया.

इसे भी पढ़ेंः Sci&Tech :  छात्रों को डिजिटल शिक्षा मुहैया कराने में शिक्षकों की मदद कर रहे हैं कई ऑनलाइन मंच

Related Articles

Back to top button