न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनतेरस में कैसी झाड़ू खरीदें कि आप मालामाल हो जायें

872

NW Desk: धनतेरस पर आप कुछ भी खरीद सकते हैं ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. लेकिन इस दिन हर कोई झाड़ू जरूर खरीद लेता है. धनतेरस के दिन क्‍या वाकई झाड़ू की खरीद करना आपके लिए सुख और समृद्धि लाता है. झाड़ू खरीदें भी तो कैसा लें और कितना लें. इस बारे में कोई नहीं सोचता. इस बार झाड़ू की खरीद भी ज्‍योतिष शास्‍त्र के अनुसार करेंगे तो आपकी समृद्धि को कोई नहीं रोक सकता है. ऐसे में आपको धनतेरस के दिन झाड़ू की खरीद में शुभ और अशुभ चीजों के बारे में जरूर पता होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें: धनतेरस में इन राशियों वाले पार्टनर को ‘सोना’ गिफ्ट करना पड़ सकता है महंगा

जानिए धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदना क्‍यों है शुभ

दरअसल, शास्त्रों में इसे माता लक्ष्मी का प्रतिरूप माना जाता है. लोग धनतेरस के दिन झाड़ू तो खरीद लेते हैं लेकिन उससे जुड़े नियमों के प्रति लापरवाही बरतने की वजह से मां लक्ष्मी को खुश करने की जगह नाराज कर देते हैं.

धनतेरस में झाड़ू खरीदने के नियम

आइए जानते हैं धनतेरस पर खरीदे गए झाड़ू के इस्तेमाल करने के कुछ नियमों के बारे में. ये नियम मां लक्ष्मी को झट से खुश करने में आपकी मदद कर सकते हैं.

सफेद रंग का धागा: धनतेरस पर खरीदी गर्इ झाड़ू से जुड़ा पहला नियम कहता है कि जब आप उसे खरीदकर अपने घर लायें तो उसके हैंडल पर एक सफेद रंग का धागा बांध लें. ऐसा करने से मां लक्ष्मी आपके घर में स्थिर बनी रहती हैं.

इसे भी पढ़ें: झारखंड: धनतेरस के दिन होगा 300 करोड़ का कारोबार

झाड़ू पर पैर न मारें: धनतेरस के दिन झाडू खरीदकर लायें. इस बात का जरूर ध्यान रखना चाहिये कि कभी भी झाडू पर पैर नहीं पड़ना चाहिये. झाडू को मां लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है ऐसा करने पर मां नाराज हो जाती हैं.

इस दिन झाड़ू न खरीदें: मंगलवार, शनिवार और रविवार को कभी भी झाड़ू नहीं खरीदना चाहिये. ऐसा करने से आपके घर में कलह का वातावरण बन सकता है.

एक साथ तीन झाड़ू: आपने हमेशा अपने बड़ों के मुंह से यह करते सुना होगा कि कभी भी कोई चीज तीन नहीं खरीदनी चाहिये. यहां तक कि कोई भी चीज कभी तीन लेकर भी नहीं बैठनी चाहिये. लेकिन धनतेरस वाले दिन यह कोशिश करनी चाहिए कि झाडू हमेशा तीन से सेट में ही खरीदें कभी भी दो या चार के सेट में ना खरीदें.

झाड़ू ढककर रखें: झाड़ू को हमेशा ढककर रखें. अगर आप झाड़ू को खुले में कहीं भी उठाकर रख देते हैं तो याद रखें कि यह आपके घर में कलह की बड़ी वजह तक बन सकता है. इससे परिवार के कर्इ लोगों में मनमुटाव या झगड़े तक की नौबत आ जाती है.

मंदिर में झाड़ू दान: झाडू से जुड़ी एक और भी मान्यता है कि दिवाली वाले दिन झाडू मंदिर में दान में देने से मां की कृपा होती है. लेकिन, यह भी ध्यान रखें के दिवाली के दिन सूर्योदय से पहले ही झाडू मंदिर में दान करें. लेकिन, आपको इस सभी बातों के साथ एक और बात का भी ध्यान रखना होगा वह है कि आपको धनतेरस से पहले से झाडू खरीद लेनी होगी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: