न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

एयरपोर्ट बनने में हो रही देरी से नाराज बोकारो के व्यवसायियों ने जयंत सिन्हा को लिखा पत्र

70

Bokaro : बोकारो में एयरपोर्ट निर्माण में हो रही देरी से नाराज होकर बोकारो के व्यवसायी नाराज हैं. बोकारो चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के व्यापारियों ने नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा को पत्र लिखा है. पत्र के माध्यम से उन्होंने मांग की है कि प्रस्तावित एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के लंबित कार्य को यथाशीघ्र चालू कराया जाये. साथ ही, व्यवसायियों ने आग्रह किया है कि काम जल्द चालू कराने के लिए सक्षम पदाधिकारियों को उचित दिशा-निर्देश दिये जायें. एयरपोर्ट के निर्माण में देरी का प्रमुख कारण पेड़ों की कटाई नहीं हो पाना था. पेड़ों की कटाई कौन करेगा, यह पत्राचार के बावजूद नहीं मालूम हो पा रहा था. पेड़ों की कटाई अब वन विकास निगम करेगा. इसको लेकर पहले टेंडर निकाला जायेगा. उसके बाद ही पेड़ों की कटाई होगी. एयरपोर्ट निर्माण में हो रही देरी की वजह से एयरपोर्ट आरंभ होने को लेकर लोगों को संशय है. मुख्यमंत्री ने दावा किया था कि अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के मौके पर विमान सेवा शुरू कर दी जायेगी.

पेड़ों की कटाई कौन करेगा, विभाग को नहीं था पता

न ही एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया, न ही बोकारो प्रशासन और न ही परिवहन एवं नागर विमानन विभाग को पता था कि एयरपोर्ट के लिए पेड़ों की कटाई कौन करेगा. पेड़ों की कटाई को लेकर सचिवालय से लगातार पत्राचार का दौर जारी था. काफी मंथन के बाद यह साफ हो पाया है कि बोकारो एयरपोर्ट के लिए पेड़ों की कटाई वन विकास निगम करेगा. मामले को लेकर न्यूज विंग ने पांच जनवरी 2019 को “हवा में लटका बोकारो हवाईअड्डा! किसी को पता ही नहीं कौन काटेगा एयरपोर्ट निर्माण के लिए पेड़” शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी. खबर के प्रकाशित होने के बाद से मामले के संबंधित अधिकारी रेस हुए और तय हुआ कि वन विकास निगम एयरपोर्ट के लिए पेड़ों की कटाई करेगा.

बोकारो एयरपोर्ट से उड़ान भरने का सपना अभी काफी दूर है

25 अगस्त 2018 को झारखंड में बीजेपी सरकार के मुखिया रघुवर दास, नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा के अलावा आस-पास के विधानसभा क्षेत्र के विधायक और मंत्री की गवाही में दावा किया गया कि दिसंबर 2018 से बोकारो एयरपोर्ट से विमान सेवा शुरू कर दी जायेगी. लेकिन, दिंसबर खत्म हो गया, जनवरी भी आधी खत्म होने को है, लेकिन अभी तक पेड़ों की कटाई भी नहीं हो सकी है. एएआई ने वन विकास निगम को पेड़ों की कटाई के लिए एप्रोच किया है. निगम इस संबंध में अपनी तैयारी कर रहा है. पहले रेट डिसाइड होगा. फिर टेंडर निकलेगा. टेंडर की प्रक्रिया पूरी होगी. उसके बाद ही पेड़ों की कटाई का काम शुरू हो पायेगा. इन सभी कामों में छह महीने तक का वक्त लग सकता है. ऐसे में बोकारो एयरपोर्ट से उड़ान भरने का सपना अभी काफी दूर है.

इसे भी पढ़ें- श्रम विभाग: ऑनलाइन निबंधन में ‘अप्रूवल’ का ऑप्‍शन नहीं, 2016 से पेंडिंग हैं ऑनलाइन आवेदन

इसे भी पढ़ें- सीओ विनय ने पत्नी के नाम अवैध तरीके से खरीदी 30 एकड़ जमीन, अब चलेगी विभागीय कार्यवाही

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: