Crime NewsJharkhandRanchi

लूटपाट के दौरान भागने पर मारी गयी थी व्यवसायी विपिन साहू को गोली, 5 अपराधी गिरफ्तार

Ranchi:  नयासराय पुंदाग में 19 सितंबर को लूटपाट के दौरान भागने के क्रम में अपराधियों ने जेवर व्यवसायी विपिन साहू को गोली मारी थी. घटना के 9 दिन बाद विपिन साहू की मेडिका हॉस्पिटल में मौत हो गयी थी.

Jharkhand Rai

जेवर व्यवसायी विपिन साहू हत्याकांड खुलासा करने के लिए एसएसपी अनीश गुप्ता के निर्देश पर पुलिस की टीम ने कार्रवाई करते हुए हत्याकांड में शामिल पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया. हत्याकांड में शामिल पांच अपराधियों में नैयर अंसारी, जुलफान अंसारी, धर्मेन्द्र कच्छप, नवीन कुमार और अजीत कुमार सिंह शामिल हैं.

इस घटना में शामिल एक अन्य अभियुक्त सुजीत ठाकुर फरार है. पुलिस ने इनके पास से एक देशी कट्टा एक पिस्तौल और एक मोटरसाइकिल बरामद किया है. गिरफ्तार हुए पांचों अभियुक्तों द्वारा स्वीकार किया गया कि इससे पूर्व अगस्त 2019 में रातू थाना क्षेत्र में महिला से छिनतई की घटना का अंजाम भी दिया था.

इसे भी पढ़ें- #NGO बनाने के नाम पर महिला से 30 लाख की ठगी, आरोपी गिरफ्तार

Samford

हत्या करने की नहीं थी कोई मंशा

विपिन साहू हत्याकांड में शामिल पांच अपराधियों को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने जब इन सभी अपराधियों से पूछताछ की तो अपराधियों ने बताया कि विपिन साहू की हत्या करने की कोई मंशा नहीं थी. सिर्फ लूटपाट करने की योजना थी. लेकिन लूटपाट के दौरान विपिन साहू भागने लगे. इसी दौरान विपिन साहू को गोली मार दी गयी.

 दो अपराधियों ने की थी रेकी

विपिन साहू तेरे कि उनके घर के सामने रहने वाले नैयर अंसारी अपने सहयोगी नवीन के साथ की थी. अंसारी को पता था कि विपिन साहू हर दिन अपने दुकान से लौटने क्रम में रुपया लेकर घर वापस आता है. इसी को लेकर नैयर अंसारी ने अपने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर लूटपाट की योजना बनाई थी.

इसे भी पढ़ेंः #CricketTest : दक्षिण अफ्रीका को पारी और 137 रन के अंतर से हराकर भारत ने श्रृंखला अपने नाम की

इस तरह वारदात को दिया अंजाम

20 सितंबर की रात करीब साढ़े आठ बजे विपिन अपने भाई प्रकाश सोना के साथ नयासराय स्थित अपने घर लौट रहे थे. उसी दौरान पुंदाग नयासराय पुल के पास पहले से घात लगा कर बैठे जुल्फान अंसारी, धर्मेंद्र कच्छप और अजीत कुमार सिंह ने विपिन साहू को रोकने का प्रयास किया. रोकने के क्रम में विपिन साहू बाइक समेत गिर गये और भागने लगे.

इसी क्रम में जुल्फान अंसारी विपिन साहू को गोली मार दी. राहगीरों की मदद से भाई मेडिका अस्पताल लेकर पहुंचे मेडिका के आइसीयू में भर्ती कराया गया जहां नौ दिन बाद मौत हो गयी.

इसे भी पढ़ेंः #EconomicSlowdown  : अब World Bank ने 2019-20 में भारत का GDP अनुमान घटा कर 6 फीसदी किया

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: