न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

महिला की जलकर मौत, परिजनों ने कहा- कार मांग रहे थे ससुरालवाले, नहीं दे सके, तो जलाकर मार डाला

1,199

Ranchi : एक महिला को जली हुई अवस्था में शनिवार को रिम्स लाया गया. यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. महिला गया के शेरघाटी की रहनेवाली थी और उसका नाम मनसा था. रिम्स में महिला के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था. मनसा के परिजनों का कहना है कि उसके ससुरालवालों ने उसे जलाकर मार डाला. मनसा के भाई ने कहा, “मेरी बहन को उसके ससुरालवालों ने आग लगा दी. ससुरालवाले बार-बार दहेज की मांग किया करते थे. कुछ दिनों पहले ही उनलोगों ने ब्रेजा गाड़ी की मांग की थी, लेकिन हम देने में असमर्थ थे. इसके बाद भी हमने तीन लाख रुपये किसी तरह जमा करके उनलोगों को दिये. फिर भी वे लोग नहीं माने और मेरी बहन को जलाकर मार दिया.” मनसा का परिवार गया के शेरघाटी का रहनेवाला है, जबकि उसका विवाह चार साल पहले पलामू के रहनेवाले राकेश दीक्षित के साथ हुआ था. राकेश दीक्षित के पिता अमर दीक्षित पुलिस में हैं.

इसे भी पढ़ें- गुमला और घाघरा में 30 दिनाें में 17 हत्या, एसपी बोले : शांति है

भाई ने कहा- उनकी हर मांग को हम पूरा करते थे

मनसा के भाई ने बताया कि उनकी बहन के ससुरालवाले उनसे हमेशा किसी न किसी कीमती चीज की मांग करते रहते थे. उनकी हर मांग को मनसा के मायकेवाले पूरा करते रहे. मनसा के दो छोटे-छोटे बच्चे भी हैं.

इसे भी पढ़ें- लोहरदगाः हथियार के बल पर युवती से तीन सालों तक दुष्कर्म

पति ने कहा- गैस चूल्हा की आग से जली मनसा

इधर, मनसा के पति राकेश दीक्षित का कहना है कि मनसा गैस में खाना पका रही थी, इसी बीच उनकी साड़ी में आग लग गयी. धीरे-धीरे आग काफी ज्यादा बढ़ गयी. राकेश ने कहा, “मैंने मोटे कपड़े की सहायता से आग पर काबू पाने का काफी प्रयास किया, लेकिन नाकामयाब रहा. आग बुझाने के क्रम में मेरा हाथ भी जल गया.” दहेज प्रताड़ना के आरोप पर राकेश ने कहा, “यह गलत आरोप है. मैंने या मेरे परिवारवालों ने कभी किसी तरह की कोई मांग नहीं की.”

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: