Dhanbad

हाइवा में लोड कर दिया जलता हुआ कोयला, ढुलाई के दौरान रास्ते में विकराल हुईं आग की लपटें, मची अफरा-तफरी

Jharia (Dhanbad) : झरिया के जोड़ापोखर थाना अंतर्गत जामाडोबा बाजार में शनिवार को एक बड़ा हादसा होने से बच गया. ऐना कोलियरी से हाइवा में आग लगा हुआ कोयला लोड कर दिया गया और ड्राइवर हाइवा को लेकर ऐना से निकल गया. हाइवा में लदे कोयले की आग धीरे-धीरे बढ़ती गयी और जामाडोबा बाजार के पास आते-आते हाइवा से आग की लपटें और धुआं निकलने लगा. यह देख बाजार के लोगों मे भगदड़ मच गयी, लेकिन ड्राइवर ने सूझ-बूझ का परिचय दिया और कोयला लदे हाइवा को मेन बाजार से निकलना शुरू किया. हालांकि, बाजार में काफी भीड़ होने के कारण हाइवा धीरे-धीरे बढ़ रहा था, ड्राइवर भी डरा-सहमा था. काफी देर के बाद बढ़ता धुआं देख ड्राइवर ने बाजार से कुछ दूरी पर हाइवा को लाकर खड़ा कर दिया.

Sanjeevani

घंटों मशक्कत के बाद पाया गया आग पर काबू

MDLM

जिस जगह जलते कोयले से लदे हाइवा को खड़ा किया गया, वह भी घनी आबादीवाला एरिया है,  जिसके कारण यहां के लोगो में भय का माहौल बन गया. आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने मामले की जानकारी पास के थाना और दमकल विभाग को दी.  जानकारी मिलते ही जोड़ापोखर पुलिस और दमकल विभाग की गाड़ी घटनास्थल पर पहुंची और आग बुझाने की कोशिश में जुट गयी. कई घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया. फायर ब्रिगेड और पुलिस की कड़ी मेहनत के कारण जामाडोबा बाजार जलने से बच गया, क्योंकि थोड़ी दूरी पर ही जामाडोबा का भीड़भाड़ वाला बाजार है, अगर थोड़ी भी गलती होती, तो बड़ा हादसा हो सकता था.

बीसीसीएल के कई प्रोजेक्ट में जलता हुआ कोयला बिना बुझाये कर दिया जाता है स्टॉक

बता दें कि बीसीसीएल के कई प्रोजेक्ट में जलता हुआ कोयला बिना पानी से बुझाये निकालकर स्टॉक कर दिया जाता है. पेलोडर ऑपरेटर बिना देखे उसी जलते कोयले को हाइवा में लोड कर भेज देते हैं. इसके कारण कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकती है. ऐसी घटना से बीसीसीएल के अधिकारियों को सबक लेने की आवश्यकता है.

इसे भी पढ़ें- छह माह से मृृृत पिता को जिंदा करने के लिए बेटा कर रहा था तंत्र-मंत्र, घर के अंदर छिपा रखा था शव

इसे भी पढ़ें- भाजपा सांसद रवींद्र पांडेय पर महिला ने लगाया शारीरिक शोषण का आरोप, कतरास थाना में शिकायत दर्ज

Related Articles

Back to top button