न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सोनभद्र में 10 आदिवासियों की हत्या के विरोध में यूपी के सीएम योगी का फूंका पुतला

292

Ranchi: आदिवासी जन परिषद ने सोनभद्र (उत्तर प्रदेश) में जमीन के मामले को लेकर तीन महिलाओं समेत 10 आदिवासी किसानों की हत्या के विरोध में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का पुतला दहन किया. साथ ही अल्बर्ट एक्का चौक में प्रदर्शन भी किया.

इसे भी पढ़ें –एक एसपी ने व्यवसायियों के साथ बैठक कर कहा, ऑफिस ठीक करा दें और शहर में सीसीटीवी लगाने के लिए चंदा दें

Sport House

लोगों को सम्बोधित करते हुए प्रेम शाही मुंडा ने कहा कि जिन राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं वहां आदिवासियों की जमीन हड़पने के लिए लगातार हमले हो रहे हैं. केन्द्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार वनाधिकार कानून 2006 की मूल भावनाओं में संशोधन कर आदिवासायों को समूल नष्ट करने पर तुली हुई है.

इसे भी पढ़ें – ब्रदर सिरिल ने सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर जमीन बेचा, पूर्व डीसी मनोज कुमार ने नियमों की अनदेखी कर दी अनुमति

केन्द्र सरकार, उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार एवं झारखंड की रघुवर दास सरकार की आदिवासियों की कृषि योग्य जमीन पर तीखी नजर है. इसलिए सीएनटी/ एसपीटी एक्ट में संशोधन करने का निरंतर प्रयास कर रही है. बहुराष्ट्रीय कंपनी, पूंजीपतियों के हित में भूमि अधिग्रहण बिल जैसे काला कानून लाया गया ताकि आदिवासियों की जमीन आसानी से छीनी जा सके. देश की भाजपा सरकार आदिवासियों को कमजोर समझने की भूल न करे अन्यथा देश के कोने-कोने में खूनी संघर्ष होने से कोई रोक नहीं सकता है. आदिवासी जन परिषद उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार से मांग करती है कि दोषियों को फांसी की सजा दी जाये तथा आदिवासी जमीन खरीद – बिक्री करने वाले आइएएस अफसर को अविलम्ब गिरफ्तार किया जाये, अन्यथा आदिवासी जन परिषद उग्र आंदोलन को बाध्य होगी.

Related Posts

#Palamu: ‘देशद्रोहियों में #ABVP का खौफ, सीएए से वामपंथियों के पेट में हो रहा दर्द’

अभाविप का प्रांतीय अधिवेशन, निकली भव्य शोभायात्रा

Mayfair 2-1-2020

पुतला दहन में अभय भुटकुंवर, उमेश लोहरा, शांति शवैंया,  भगीरथ सिंह मुण्डा,  जयसिंह लुखड़, जोफा कच्छप, सिकन्दर मुण्डा,  निरंजन नायक,  रंजीत उरांव,  बिरसा मुण्डा,  संजीव वर्मा, किष्टो कुजूर, कृष्णा मुण्डा,  जोनिता तिग्गा, पुष्पा टोप्पो,  परमेश्वर सिंह मुण्डा,  चन्द्रशेखर सिंह मुण्डा, सीता बाड़ा , आशा कुजूर, मुन्नी तिर्की, रश्मि देवी, अजम्बर मुण्डा,  परदेशी मुण्डा के अलावे सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे.

इसे भी पढ़ें – UP के शहरों में धनबाद से हथियारों की आपूर्ति, 23 पिस्टल व 46 मैगजीन के साथ दो गिरफ्तार

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like