BiharBihar UpdatesJobsLead News

Government Jobs : बिहार में सरकारी नौकरी के लिए बंपर वैकेंसी, 21 हजार पदों को भरेगा ग्रामीण कार्य विभाग

PATNA: बिहार में सरकारी नौकरी की जबर्दसत वैकेंसी आने वाली है, यदि आप गवर्नमेंट जॉब की तैयारी कर रहे हैं और बहाली नहीं निकलने से उदास बैठे हैं तो ये वक्त है आपके मुस्कुराने का क्योंकि खबर पक्की है. बिहार के ग्रामीण कार्य विभाग में 21 हजार नियुक्ति करने की तैयारी में है. विभाग को दो महीने में करीब एक हजार इंजीनियर मिल जायेंगे. इसमें जूनियर और असिस्टेंट इंजीनियर शामिल हैं. साथ ही यूडीसी, एलडीसी, स्टोरकीपर, लैब तकनीशियन और अन्य के लिए करीब 20 हजार पद सृजन कर बहाली की तैयारी की जा रही है. इसके अंतर्गत करीब नौ हजार स्थायी और करीब 11 हजार अस्थायी बहाली होगी.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand Corona Update: 24 घंटे में सबसे अधिक 17 संक्रमित रांची में मिले, जानें-किन-किन नौ जिलों में एक भी संक्रमित नहीं मिले  

इन पदों पर होगी बहाली

विभाग में मुख्य अभियंता, अधीक्षक अभियंता और कार्यपालक अभियंता के लिए भी अतिरिक्त पदों का सृजन करने की तैयारी में है. बहुत जल्द सरकार की मंजूरी के बाद बहाली प्रक्रिया शुरू होगी. सूत्रों के अनुसार ग्रामीण कार्य विभाग में लंबे समय से सेवानिवृत्त कर्मियों की जगह नियमित बहाली नहीं हुई थी. इस कारण इंजीनियरों और कर्मियों की कमी थी. संविदा के माध्यम से कई जगह काम हो रहा है. वहीं राज्य में विभाग के माध्यम से करीब एक लाख 16 हजार किमी लंबाई में ग्रामीण सड़कें बन चुकी हैं. इन सड़कों के मेंटेनेंस के साथ ही ग्रामीण यातायात को बेहतर बनाने के लिए कई योजनाओं पर काम हो रहा है. ऐसी हालत में इंजीनियरों और कर्मियों को दूर करने के लिए बहाली की जरूरत थी.

advt

इसे भी पढ़ें : उत्तराखंड के बाद यूपी में भी कांवड़ यात्रा पर रोक, झारखंड में भी उम्मीद कम

अंतिम चरण में है बहाली प्रक्रिया

ग्रामीण कार्य विभाग में इस समय कनीय अभियंता के करीब 1070 पद हैं. इसमें से करीब 600 पद खाली हैं. वहीं सहायक अभियंता के करीब 775 पद हैं. इसमें से करीब 466 पद खाली हैं. इन दोनों पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया तकनीकी सेवा आयोग और बीपीएससी के माध्यम से पिछले साल से चल रही है. अगले दो महीने में विभाग को करीब एक हजार इंजीनियर मिलने की संभावना है.

adv

 

ग्रामीण कार्य विभाग के मंत्री जयंत राज ने कहा कि पिछले सालों के मुकाबले ग्रामीण सड़कों की लंबाई बढ़ी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश के अनुसार ग्रामीण आबादी को बेहतर यातायात सुविधा देने और ग्रामीण सड़कों को मुख्य सड़कों से जोड़ने का काम चल रहा है. वहीं सेवानिवृत्त इंजीनियरों और कर्मियों की जगह नयी बहाली नहीं हुई थी. ऐसे में निर्माण और मेंटेनेंस के लिए इंजीनियरों और कर्मियों की जरूरत थी. इंजीनियरों की बहाली के लिए विभाग ने सरकार को प्रस्ताव भेजा था. नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है और अगले दो महीनों में इंजीनियरों को मिलने की संभावना है. वहीं विभाग करीब 20 हजार पद सृजन की तैयारी कर रहा है. तो आप सरकारी नौकरी के लिए बंपर भर्ती का अवसर ना गवाएं, ताजा अपडेट चेक करते रहें.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: