JharkhandRanchi

2017 के बाद 2019 में टूटा गर्मी का रिकॉर्ड, हरेक वैकल्पिक वर्ष में जून माह में पड़ी अधिक गर्मी

विज्ञापन

Ranchi : राज्य की राजधानी रांची में 2017 के बाद एक बार फिर इस वर्ष 2019 में सर्वाधिक गर्मी पड़ रही है. तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया जा रहा है. 2017 में चार जून को रांची का अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्यिस दर्ज किया गया था.

कमोबेश वही स्थिति इस वर्ष भी है. इस वर्ष 10 जून को 41 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया जा चुका है. पिछले चार वर्षों के मौसम के आंकड़ों को देखें, तो जून माह में आद्रता 90 से 100 प्रतिशत तक दर्ज की गयी है. इससे मौसम में किसी तरह की नमी नहीं रहती है.

धूप भी काफी तेज रहता है. पश्चिमी विक्षोभ और दक्षिण पश्चिम मानसून के लेट होने से गर्मी का आभास भी लोगों को अधिक हो रहा है. सुबह से ही आद्रता (ह्यूमिडिटी) अधिक बढ़ जा रही है, जिससे लोगों के शरीर से अधिक पसीना निकल रहा है.

इतना ही नहीं दोपहर में भी आद्रता 85 प्रतिशत से कम नहीं हो रही है. आम दिनों की तुलना में दोपहर बाद सड़कों पर भी सन्नाटा पसरा रहता है. देर शाम के बाद लोग अपने घरों से जरूरत की चीजें लेने बाहर निकलते हैं.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: खुद का घर खर्च तो कर्जे से चलता है, अब मिड डे मील के लिए भी उधार पर निर्भर हैं मालती

गर्मी को देखते हुए सरकार ने 22 तक बंद की प्राइमरी कक्षाएं

स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग ने तेज गर्मी और तपीश को देखते हुए कक्षा एक से लेकर तीसरी कक्षा तक की पढ़ाई 22 जून तक स्थगित कर दी है. प्रचंड गर्मी को देखते हुए सभी सरकारी, गैर सरकारी विद्यालयों के लिए यह नियम लागू किया गया है.

सरकार की तरफ से कक्षा चौथी से लेकर आठवीं तक के क्लास सुबह 6.30 बजे से 9.30 बजे तक संचालित करने को कहा गया है, जबकि नौवीं से 12वीं तक की कक्षाएं सुबह 6.30 से 10.30 बजे तक संचालित करने को कहा गया है.

इसे भी पढ़ेंःNEWS WING IMPACT:  बालू लूट पर सचिव ने DC-SP से कहा, हुआ अवैध खनन तो आप जिम्मेदार

पिछले पांच वर्षों में रांची में जून माह सबसे अधिक तापमान वाला महीना

वर्षतिथिअधिकतम तापमानआद्रता
201510.6.201541 डिग्री सेल्सियस100 प्रतिशत
201611.6.201640 डिग्री सेल्सियस100 प्रतिशत
20174.6.201742 डिग्री सेल्सियस86 प्रतिशत
201823.6.201839 डिग्री सेल्सियस95 प्रतिशत
201910.6.201941 डिग्री सेल्यिस98 फीसदी

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: