न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिना किसी तैयारी के चांसलर पोर्टल सिस्टम को लाना घोटाले का संकेत : ABVP

306

Ranchi : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के प्रदेश सह मंत्री आशुतोष सिंह ने इस वर्ष पूरे झारखंड में चांसलर पोर्टल के माध्यम से हुए एडमिशन के संबंध में कहा कि एबीवीपी बिना किसी पूर्ण तैयारी के इस सिस्टम को प्रारंभ करने का विरोध करती है. उन्होंने कहा कि इस सिस्टम के माध्यम से एडमिशन प्रक्रिया होने से पूरे झारखंड के छात्र समुदाय के साथ एक आपराधिक कृत्य किया गया है. इस माध्यम से नामांकन होने से बहुत सारे छात्र नामांकन से भी वंचित हो गये हैं.

इसे भी पढ़ें- RU : ऑनलाइन पोर्टल ‘स्वयं’ के जरिये छात्र सीखेंगे जनजातीय भाषा

Trade Friends

पूरे सिस्टम से पैसे की हुई बंदरबांट

आशुतोष सिंह ने कहा कि संबंधित अधिकारियों द्वारा सरकार को गुमराह कर इस सिस्टम के माध्यम से नामांकन लिया जाना कहीं न कहीं एक घोटाले की तरह नजर आता है. इस सिस्टम को लाने के बाद एक तो  छात्रों का पैसा अधिक लगा, ऊपर से संबंधित अधिकारियों की जेब गर्म हुई. पूरे सिस्टम से कहीं न कहीं पैसे की बंदरबांट होती नजर आती है. इसलिए, एबीवीपी ने इस पूरे प्रकरण की जांच की मांग की है.

WH MART 1

इसे भी पढ़ें- भाजपा के 12 सांसद स्कूल मर्जर के खिलाफ, सीएम को लिखा पत्र

ऑनलाइन सिस्टम को लाना विद्यार्थियों के भविष्य से खिलवाड़

परिषद के प्रदेश सह कार्यालय मंत्री कृष्ण गोपाल ने कहा कि ऑनलाइन सिस्टम लागू कर कहीं न कहीं विश्वविद्यालय की स्वायत्तता को भी खत्म करने की साजिश चल रही है. बिना किसी पूर्व तैयारी के अचानक से ऑनलाइन सिस्टम को लाना विद्यार्थियों के भविष्य से खिलवाड़ करने के समान है. ऐसी स्थिति में विद्यार्थी अपने को ठगा महसूस कर रहे हैं. बहुत से प्रतिभावान विद्यार्थी भी नामांकन लेने से वंचित हो रहे हैं. इस सिस्टम के आने से ग्रॉस एनरॉलमेंट रेशियो में भी कमी आयी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like