न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कांग्रेस का ब्राह्मण कार्ड ! मदन मोहन झा को बिहार कांग्रेस की कमान

चार कार्यकारी अध्यक्ष की भी नियुक्ति

170

NewDelhi: आनेवाले लोकसभा चुनाव के लिए माना जा रहा है कि बिहार महागठबंधन का केंद्र हो सकता है. ऐसे में कांग्रेस भी अपनी तैयारियों में जुट गई है. आम चुनाव से पहले कांग्रेस ने बिहार के नेतृत्व में बदलाव किया है. कांग्रेस ने 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले मंगलवार को बिहार की नयी प्रदेश कमेटी का गठन करते हुए मदन मोहन झा को अध्यक्ष नियुक्त किया. इसके अलावा चार कार्यकारी अध्यक्ष भी नियुक्त किए गए हैं.

इसे भी पढ़ेंःराफेल  डील पर दायर याचिका पर अब सुनवाई 10 अक्तूबर को  

मदन मोहन झा को कमान

कांग्रेस हाईकमान ने मदन मोहन झा को बिहार की कमान सौंपी है. इसके साथ ही अखिलेश प्रसाद सिंह को चुनाव प्रचार समिति का प्रमुख नियुक्त किया गया है. पार्टी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत की ओर से जारी बयान के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने झा और सिंह की नियुक्ति की. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के चार कार्यकारी अध्यक्ष भी नियुक्त किये गए हैं. अशोक कुमार, कौकब कादरी, समीर कुमार सिंह और श्याम सुंदर (धीरज) को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है. बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी की 23 सदस्यीय कार्य समिति और 19 सदस्यीय सलाहकार समिति का भी गठन किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःसिंदरी कारखाने के 2000 करोड़ मूल्य का स्क्रैप औने-पौने में लेकर सलटा रहे ऊंची पहुंचवाले कारोबारी

कौन हैं मदन मोहन झा

बिहार कांग्रेस के नए प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा राज्य में पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं. और विधान परिषद के सदस्य भी हैं. बिहार में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष का पद अशोक चौधरी को पद से हटाये जाने के बाद से खाली था. इसके बाद से कोकब कादरी कार्यवाहक अध्यक्ष की भूमिका निभा रहे थे.

silk_park

एनएसयूआई से राजनीति की शुरुआत करने वाले झा युवा कांग्रेस में महासचिव बने. बाद में वह बिहार कांग्रेस में महासचिव नियुक्त किये गए. 1985 से 1995 तक विधानसभा के सदस्य रहे. मई 2014 से बिहार विधान परिषद में कांग्रेस कोटे से सदस्य हैं. दरभंगा जिले के निवासी झा के पिता नागेंद्र झा बिहार सरकार के शिक्षा मंत्री रहे. स्वयं मदन मोहन झा नीतीश सरकार में महागठबंधन के दौर में राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रहे हैं.

कांग्रेस का ब्राह्मण कार्ड !

माना जा रहा है कि बिहार में 8 फीसदी ब्राह्मण वोटर्स को टारगेट में रखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मदन मोहन झा को पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाया है. राहुल का ये ब्राह्मण कार्ड, ब्राह्मणों को वापस अपने खेमे में लाने की कोशिश मानी जा रही है. दरअसल,  बिहार में करीब 8 फीसदी ब्राह्मण मतदाता कांग्रेस का ये परंपरागत वोट माना जाता था, लेकिन बीजेपी के उभार के बाद ये वोट कांग्रेस से छिटक गया है.

इसे भी पढ़ें-सीएस से मारपीट केस : केजरीवाल, सिसोदिया, आप के 11 विधायकों को समन जारी

अब मदन मोहन झा के जरिए कांग्रेस ने बिहार के ब्राह्मण मतदाताओं को साधने की रणनीति बनाई है. एक ओर  जहां आरजेडी की नजर यादव, मुस्लिम, दलित और ओबीसी मतदाताओं पर है. वहीं कांग्रेस ने ब्राह्मण कार्ड के जरिए महागठबंधन को और मजबूत करने की कोशिश की है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: