न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोलंबो में तीन चर्च व होटलों सहित आठ जगहों पर धमाके, मरने वालों की संख्या 185 पहुंची, 400 से ज्यादा लोग घायल, कर्फ्यू

राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की है.  सिरिसेना ने कहा, मैं इस अप्रत्याशित घटना से सदमे में हूं.

312

Colombo:  श्रीलंका में रविवार को  तीन चर्च और तीन होटलों सहित आठ जगहों पर धमाके हुए है. चर्चों में धमाका ईस्टर प्रार्थनासभा के दौरान हुआ. श्रीलंका के स्थानीय मीडिया के मुताबिक, धमाके में 185 से अधि‍क लाेग मारे गये हैं. 400 से ज्यादा लोग घायल हो गये हैं. घटना में नुकसान का आंकलन फिलहाल नहीं हो पाया है. स्थानीय प्रशासन की टीम इस बारे में जानकारी इक्ट्ठा करने की कोशिश में लगी हुई है. प्रशासन ने पूरे देश में कर्फ्यू लागू कर दिया है.  श्रीलंका में गृहयुद्ध के अंत के बाद यह सबसे बड़ा खूनखराबा वाला दिन है.

पुलिस प्रवक्ता रूवन गुनासेखरा ने बताया कि यह विस्फोट स्थानीय समयानुसार आठ बजकर 45 मिनट पर ईस्टर प्रार्थना सभा के दौरान कोलंबो के सेंट एंथनी चर्च, पश्चिमी तटीय शहर नेगेम्बो के सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टिकलोवा के एक चर्च में हुए. वहीं पांच अन्य विस्फोट पांच सितारा होटलों शंगरीला, द सिनामोन ग्रांड और द किंग्सबरी में हुए.

होटल में हुए विस्फोट में घायल विदेशी और स्थानीय लोगों को कोलंबो जनरल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि अब तक इन धमाकों में 185 से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी है. उन्होंने बताया कि कोलंबो में 45, नेगेम्बो में 68 और बट्टिकलोवा में 27 लोगों की मौत हो गयी.  कोलंबो के नेशनल हॉस्पिटल में 45 शवों में से नौ शव विदेशी नागरिकों के हैं

राष्ट्रपति सिरिसेना ने लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की

राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की है.  सिरिसेना ने कहा, मैं इस अप्रत्याशित घटना से सदमे में हूं.  सुरक्षाबलों को सभी जरूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिये गये हैं. प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने इसे कायराना हमला बताते हुए कहा कि उनकी सरकार स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए काम कर रही है. उन्होंने ट्वीट किया, मैं श्रीलंका के नागरिकों से दुख की इस घड़ी में एकजुट और मजबूत बने रहने की अपील करता हूं.  सरकार स्थिति को काबू में करने के लिए तत्काल कदम उठा रही है.

किसी संगठन नहीं ली है जिम्मेवारी

पुलिस ने बताया कि पहला धमाका स्थानीय समयनुसार करीब 8:45 पर हुआ. हालांकि अबतक किसी संगठन की ओर से इस धमाके की जिम्मेदारी नहीं ली है. उन्होंने बताया कि इनमें से एक विस्फोट कोलंबो के कोचचीकाडे के सेंट एंथनी गिरजाघर में हुआ.

कोलंबो नेशनल हॉस्पिटल ने बताया कि कम से कम 80 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. कटुवापितियूत्या के सेंट सेबास्टियन चर्च से किए गए एक फेसबुक पोस्ट में लिखा गया है कि  हमारे गिरजाघर पर बम हमला , कृपया आएं और मदद करें.

राष्ट्रपति कोविंद व पीएम मोदी ने की निंदा

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व पीएम मोदी ने श्रीलंका हमले की निंदा की है. श्री कोविंद ने कहा कि भारत श्रीलंका में हुए आतंकी हमलों की निंदा करता है और देश के लोगों और सरकार को अपनी संवेदना प्रदान करता है. ऐसी हिंसा का सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं है. हम श्रीलंका के साथ पूर्ण एकजुटता से खड़े हैं.  पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि श्रीलंका में हुए भयानक विस्फोटों की कड़ी निंदा करते हैं. हमारे क्षेत्र में इस तरह के बर्बरता के लिए कोई जगह नहीं है. भारत श्रीलंका के लोगों के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है.

भारतीयों की मदद के लिए जारी किए हेल्पलाइन नंबर

भारत ने रविवार को कहा कि वह श्रीलंका में स्थिति पर करीबी नजर बनाए हुए है, जहां ईस्टर के मौके पर लगातार आठ विस्फोट हुए हैं.  विस्फोट गिरिजाघरों में ईस्टर की प्रार्थनासभा के दौरान सुबह करीब पौने नौ बजे हुए.

कोलंबो में भारतीय उच्चायुक्त ने ट्वीट किया, ‘‘ विस्फोट आज कोलंबो और बट्टिकलोवा में हुए हम स्थिति पर करीबी नजर बनाए हुए हैं. भारतीय नागरिक किसी भी तरह की सहायता व मदद और स्पष्टीकरण के लिए इन नंबरों पर कॉल कर सकते हैं- +94777903082, +94112422788, +94112422789 ’’

उच्चायुक्त ने अन्य एक ट्वीट में लिखा, ‘‘ दिए गए नंबरों के अलावा भारतीय नागरिक किसी भी सहायता व मदद और अन्य किसी स्पष्टीकरण के लिए +94777902082, +94772234176 नंबरों पर फोन कर सकते हैं’’

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: