Main SliderNational

बॉलीवुड ड्रग्स कनेक्शन : पूर्व निर्माता क्षितिज प्रसाद को एनसीबी ने किया गिरफ्तार

विज्ञापन

Mumbai : बॉलीवुड से जुड़े लोगों का ड्रग्स के सेवन और खरीद बिक्री मामले में रोज नये खुलासे हो रहे हैं. अब इस मामले में एक पूर्व फिल्म निर्माता क्षितिज प्रसाद को एनसीबी ने गिरफ्तार किया है.  क्षितिज प्रसाद धर्मा प्रोडक्शन में एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर (EP) थे. कुछ दिन पहले ही एनसीबी ने उनसे पूछताछ की थी. क्षितिज के खिलाफ सबूत मिलने पर क्षितिज को गिरफ्तार कर लिया गया है. बताया जाता है कि क्षितिज भी एक ड्रग डीलर के संपर्क में थे जिनसे वे ड्रग की खरीदारी करते थे.

इसे भी पढ़ें :सिद्धो-कान्हो के वंशज रामेश्वर मुर्मू हत्याकांड की होगी सीबीआइ जांच

पूछताछ में सामने आये थे कई नाम

एनसीबी ने मामले में जिन लोगों को पहले गिरफ्तार किया था उनसे पूछताछ में कई नाम सामने आये थे. एनसीबी ने संदिग्धों की पड़ताल की साथ ही उनपर नजर भी रखी गयी. पिछले दिनों एनसीबी को  कुछ तस्वीर हाथ लगी थी. जिनमें धर्मा प्रोडक्शन के एक्स एक्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर क्षितिज प्रसाद एक ड्रग पेडलर के साथ दिख रहे थे. ड्रग कनेक्शन में इस तस्वीर को क्षितिज प्रसाद के खिलाफ सबसे बड़ा सबूत माना जा रहा है. इस ड्रग पेडलर का नाम अंकुश अरेंजा है.

advt

इसे भी पढें : पलामूः नक्सल प्रभावित इलाकों की नौ सड़कों का होगा निर्माण-  स्वीकृति के लिए केन्द्र को भेजा DPR

क्षितिज के घर आना-जाना था ड्रग पेडलर का

एनसीबी की निगरानी से पता चला था कि ड्रग पेडलर का क्षितिज के घर आना-जाना था.यह ड्रग पेडलर क्षितिज के घर होने वाली हर समारोह और पार्टी में शामिल होता था. मुंबई दिल्ली सभी जगह उसकी मौजूदगी थी. इस वजह से एनसीबी ने क्षितिज पर शिकंजा कसा. गौरतलब है कि क्षितिज प्रसाद को करण जौहर का बेहद करीबी माना जाता है.

हालांकि करण जौहर ने क्षितिज को जानने की बात से इंकार किया है. उन्होंने अपने बयान में कहा कि क्षितिज एक प्रोजेक्ट के लिए उनकी कंपनी से जुड़े थे लेकिन वे करीबी नहीं हैं. करण ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा कि वे 2019 में हुई पार्टी पर पहले ही बात कर चुके हैं. उन्होंने कोई ड्रग्स नहीं लिए और ना ही वो कोई ड्रग पार्टी थी.

इसे भी पढें : Bollywood Drug Case : दीपिका पादुकोण ने ड्रग्स लेने की बात से किया इनकार, कहा- हमारे सर्किल में ‘डूब’ लेते हैं

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button