न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बोकारो : औद्योगिक क्षेत्र बालीडीह में परेशानी का सबब बना पुलिया

 डर से गांव के गली में नहीं निकल रहें ग्रामीण

140

Bokaro :  बोकारो औद्योगिक क्षेत्र बालीडीह के कई बड़े उद्योगों को मुख्य पथ  से जोड़ने वाली सड़क पर बना बोकारो लैंप उद्योग के पास एक पुलिया बारुडीह गांव के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गया है. दो माह से हर तरह का  भारी वाहन गांव के अंदर से रात-दिन गुजर रहा है. जिससे हर पल दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है. पुलिया का निर्माण कर विभाग का संवेदक उसे  चालू नहीं कर सका है और न ही उसके बगल से डायवर्सन बनाने की कोई जगह है. जिस कारण डायवर्सन के रुप में भारी वाहन चालक गांव के अंदर होकर गुजरने का विवश है. इसे लेकर बियाडा के अधिकारी भी चुप्पी साधे हुए है. ग्रामीणों का कहना है कि जिस स्थान पर पुलिया का निर्माण कराया गया है. वहां पर बरसात में पानी जमा हो जाने से वाहनों को दिक्कत होती थी, लेकिन पुलिया निर्माण होने के दो माह बाद भी उसे चालू नहीं कर ग्रामीणों को परेशानी में डाल दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंःचतरा लोकसभा सीट पर ताल ठोंक रहे उम्मीदवार, कई कद्दावार नेता तलाश रहे दल

डर से गांव की गली में नहीं निकलते हैं ग्रामीण

hosp3

बारुडीह गांव के ग्रामीण डर से गांव के गली में निकलना नहीं चाहते है. गांव होकर इंडेन गैस प्लांट, डालमिया सिमेंट, एचपीसीएल, सुंदर स्टील, भोले स्टील, आदित्य प्लावर मिल सहित कई बड़े उद्योग के ट्रकों का आना-जाना लगा रहता है. पुलिया बन कर तैयार हो गया है, सिर्फ उस पर मिट्टी डालकर सड़क को पूर्व की तरह चालू किया जा सकता है. भारी वाहन के गांव की गली से गुजरने के बाद बच्चों को स्कूल आने-जाने में सबसे अधिक दिक्कत हो रही हैं. भारी वाहनों के चक्कर में लोग घरों से निकलने में संकोच करते है.

इसे भी पढ़ेंःदाल में आर्टिफिशियल रंग मिलाकर ‘JIO’ ब्रांड से की जा रही थी पैकेजिंग, एसडीओ गरिमा सिंह ने की…

24 घंटे के अंदर पुलिया को चालू करवाये बियाडा प्रबंधन

गोड़ाबाली दक्षिणी पंचायत के मुखिया गणेश कुमार ठाकुर ने कहा कि बियाडा सचिव से उक्त पुलिया को 24 घंटे के अंदर चालू करवाने की मांग ग्रामीणों ने की है, ऐसा नहीं होने पर ग्रामीण सड़क को जाम करेंगे. आज ग्रामीणों ने खुद से मिट्टी डालकर सड़क को चालू करने की योजना बना रहें थे, लेकिन मिट्टी इतना अधिक है कि ग्रामीण उसे नहीं डाल सकते है. जब इस बारे में बियाडा के सचिव से बात की गई, तो उनके द्वारा ऐसा कोई भी पुलिया बनाये जाने की बात से इंकार किया गया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: