न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बोकारो : सात दिनों से लापता है युवक, ससुराल वालों पर गायब करने का आरोप

670

Bokaro : हरला थाना के रानीपोखर गांव का रहने वाला युवक मिथिलेश कुमार पिछले सात दिनों से लापता है. वह अपनी पत्नी दुलाली देवी को मायके पहुंचाने के बाद से ही गायब है. सात दिन बीतने को है, उसका कोई पता नहीं मिलने से घरवाले काफी परेशान हैं. वहीं चास मुफसिल थाना के पुलिस अधिकारियों के द्वारा भी किसी प्रकार की कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जा रही है. पुलस के कार्रवाई नहीं करने की वजह से मिथिलेश के परिजन परेशान होकर जिले के एसपी को इस संबंध में आवेदन दिया है. ताकि जल्द से जल्द मिथिलेश का पता लगाया जा सके.

इसे भी पढ़ें- राज्य के वरिष्ठ आईएएस का छलका दर्द, कहा- मंत्री गंभीर विषयों को सुनना ही नहीं चाहते

क्या है मामला

hosp3

चास मुफसिल थाना इलाके के डुमरदाह गांव में मिथिलेश का ससुराल है. मिथिलेश के पिता लखन महतो ने थाना में आवेदन देकर कहा है कि नौ अगस्त की रात मिथिलेश और उसकी पत्नी दुलाली देवी में किसी बात को लेकर विवाद हो गया था. जिसके बाद 10 अगस्त की सुबह डाक्टर को दिखाने की बात बोलकर दुलाली मिथिलेश के साथ घर से निकली. लेकिन डॉक्टर के पास जाने की जगह वह मिथिलेश को लेकर अपने मायके डुमरदाह चली गयी. इस बात की सूचना उन्हें नहीं थी. जिसके बाद शाम तक जब दोनों घर वापस नहीं लौटे तो उन्होंने बहु को फोन किया. उसने बताया कि वह अपने मायके में है और मिथिलेश दोपहर में ही उसे वहां छोड़कर निकल चुका है. लेकिन काफी देर तक मिथिलेश का पता नहीं चलने के बाद उसका बड़ा भाई डुमरदाह गया. लेकिन वहां भी उसका कोई पता नहीं चला.

इसे भी पढ़ें- बढ़ानी है सरकार को स्थापना दिवस की शोभा, इसलिए छात्रों को तीन माह तक नहीं मिलेंगे 21 हजार शिक्षक

ससुराल वालों पर लगाया आरोप

वहीं मिथिलेश का पता नहीं चलने के कारण उसके परिवार वालों ने ससुराल के लोगों पर उसके गायब होने का आरोप लगाया है. उनका कहना है कि मिथिलेश को उसके ससुराल वालों ने ही गायब किया है. वह उनके पास गया था. लेकिन उसके बाद से उसका कोई पता नहीं चल सका है.

इसे भी पढ़ें- अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर झारखंड में सात दिनों का राजकीय शोक, शुक्रवार को अवकाश

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: