न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

बोकारो डीसी और एसपी ने की चुनावी तैयारियों की समीक्षा

क्लस्टर केंद्रों, अति संवेदनशील, संवेदनशील बूथों का किया निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा निर्देश

49

Gomia : लोकसभा चुनाव की तैयारी के मद्देनजर सोमवार को बोकारो के उपायुक्त कृपानंद झा, एसपी पी मुरुगन, एसी विजय कुमार गुप्ता, एएसपी सह बेरमो के एसडीपीओ आर रामकुमार समेत जिले एवं अनुमंडल के कई पुलिस व प्रशासनिक पदाधिकारियों ने गोमिया प्रखंड के कई क्लस्टर केंद्रों का निरीक्षण किया एवं संबधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया.

eidbanner

इसे भी पढ़ेंः सबसे ज्यादा आदिवासियों का शोषण किसी ने किया तो वो है झामुमो : रघुवर दास

आपातकालीन परिस्थिति से निपटने के लिए पुलिस प्रशासन सक्रिय

उपायुक्त कृपानंद झा ने बताया कि पूरे जिले में शांतिपूर्ण, निष्पक्ष व भयमुक्त चुनाव कराने के लिए प्रशासन कटिबद्ध है और इसके लिए सभी क्लस्टर व बूथों का निरीक्षण कर चुनावी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है. वहीं बोकारो के एसपी मुरुगन ने कहा कि जिले में भयमुक्त चुनाव कराने के लिए पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है. पुलिस द्वारा जिले के सभी अति संवेदनशील एवं संवेदनशील बूथों की पहचान कर बूथों में अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया जायेगा. उन्होंने बताया कि किसी भी आपातकालीन परिस्थिति से निपटने के लिए पुलिस प्रशासन सक्रिय है.

इसे भी पढ़ेंः जो साहब रख रहे सब पर नजर, उन पर हर वक्त है अपने हमसफर की नजर

संवेदनशील बूथों का किया निरीक्षण

इस दौरान डीसी, एसपी व अन्य पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने गोमिया प्रखंड के चतरोचट्टी, तिसकोपी, लोधी, जरकुंडा, गोमिया के पिट्स मॉडर्न स्कूल, झिरके आदि क्लस्टरों का निरीक्षण करते हुए संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया. इस दौरान डीसी व एसपी ने मतदान केंद्रों का लोकेशन, रूट चार्ट नक्शा, क्लस्टर केंद्रवार न्यूनतम सुविधा संबंधी, संवेदनशील/अति संवेदनशील, कलस्टर/सेक्टर संबंधी प्रतिवेदन, मतदान केंद्र कर्मियों को भेजे जाने वाले मतदान केंद्र की पहचान, मोबाईल नेटवर्क की उपलब्धता, आदर्श आचार संहिता उल्लंघन एवं चुनाव पाठशाला मतदान केंद्रवार की समीक्षा की गयी.

इसे भी पढ़ेंः भाजपा के चुनावी संकल्प पर कांग्रेस का निशाना, कहा- युवाओं और बेरोजगारी पर कोई ध्यान नहीं

कलस्टर से मतदान केंद्र के बीच की औसतन दूरी 5 किमी हो

बताया गया कि सुरक्षा के दृष्टिकोण के कारण बूथों का लोकेशन भी किया जा रहा है. इन सभी बूथों में प्रतिनियुक्त मतदान पदाधिकारी व पुलिस बल प्रखंड के सभी 11 कलस्टर केंद्रों से मतदान केंद्र तक जायेंगे. कहा कि सुरक्षा के दृष्टिकोण से कलस्टर से मतदान केंद्र के बीच की औसतन दूरी 05 किलोमीटर हो. रूट चार्ट विषय पर चर्चा करते हुए सभी संबंधित क्लस्टर प्रभारियों को निर्देश दिया गया कि कलस्टर तक पोलिंग पार्टी के पहुंचने और कलस्टर से बूथ तक जाने की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करें.

किसी प्रकार की होनी-अनहोनी की आशंका के मद्देनजर विकल्प के तौर पर वैकल्पिक रूट मैप का तैयारी कर लेने का निर्देश दिया गया. इसी प्रकार सभी कलस्टर प्रभारियों को निर्देश दिया कि वे कलस्टर केंद्रों में पहुंचने वाले पोलिंग पार्टी व पुलिस के पदाधिकारियों को सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे और पेयजल, शौचालय, विद्युत, जेनेरेटर, रैम्प, गद्दी, भोजन सहित अन्य सुविधाएं मुहैया कराएं.

इसे भी पढ़ेंः खूंटीः इलाके में जोरदार वोटिंग का दिखायी दे रहा है मूड, शर्त है कि उम्मीदवार जमीन से जुड़ा और जुझारू…

निरीक्षण के दौरन ये लोग थे मौजूद

पुलिस पदाधिकारियों के साथ संचार सुविधाएं, मोबाईल व इंटरनेट के माध्यम से संपर्क बना रहे. उन्होंने बताया कि प्रत्येक सेक्टर पर सेक्टर पदाधिकारियों की नियुक्ति की जा चुकी है. मौके पर बेरमो के कार्यपालक दंडाधिकारी छवि वाला, पुलिस इंस्पेक्टर राधेश्याम दास, बीडीओ मोनी कुमारी, सीओ ओम प्रकाश मंडल, सीआई सुरेश कुमार वर्णवाल, आईईएल के चीफ एच आर मैनेजर बीके दुबे, पिट्स मॉडर्न के प्राचार्य मनोज कुमार उपाध्याय, गोमिया थाना प्रभारी अनिल उरांव, आईईएल के अवर निरीक्षक तुलसी सिंह, एएसआई मुसाफिर सिंह आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः पंचायती राज स्वशासन परिषद : गठन के बाद से ना हुई बैठक और ना ही कोई काम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: