न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दो दिनों से लापता विवाहिता का शव तालाब से बरामद

आरोपी पति दो दिनों से है पुलिस हिरासत में,पुत्री के बयान के अनुसार मां का हत्यारा है पिता

eidbanner
1,405

Bermo : तेनुघाट ओपी अंतर्गत पलानी ऊपर टोला में एक सनसनी खेज मामला उस समय प्रकाश में आया जब झिरकी गांव में स्थित कुसुमागढ़ तालाब में ग्रामीणों ने एक महिला का शव सुबह तैरता हुआ देखा. शव की सूचना पुलिस को दी गयी. सूचना पाते ही कथारा ओपी प्रभारी युधिष्ठिर महतो दल बल के साथ वहां पहुंच शव को बाहर निकाला. जिसके बाद पता चला यह महिला सगीर अहमद की पत्नी सबीला खातून की है. जिसे रविवार से ही तेनुघाट प्रभारी जमुना चौधरी हिरासत मे लेकर पूछताछ कर रहे हैं. तेनुघाट पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर थाने ले आयी.

नशे की हालत में पत्‍नी से करता था मारपीट

घटना के संबंध में उपरोक्त गांव के सदर इजहार अंसारी ने बताया कि उक्त महिला को उसके नशेड़ी पति शनिवार की रात्रि लगभग तीन बजे मुंह दबाकर घसीटता और पीटता हुआ घर से लेकर निकला था और सुबह जब वह आठ बजे घर लौटा तो नशे में धुत था. ग्रामीणों व बच्चों ने आरोपी से सबीला के संबंध में पूछा तो वो इंकार कर गया. जिस पर ग्रामीणों ने आरोपी को पोल से बांध पुलिस को सूचना दी. पुलिस वहां पहुंच आरोपी को अपने साथ थाने ले जाकर लगातार दो दिनों तक पूछताछ किया पर उससे कुछ भी नहीं उगलवा सकी. इसी बीच तलाब से महिला का शव बरामद हो गया. इधर महिला के मायके वाले थाने में आवेदन देकर आरोपी पति के अलावा उनके ससुर, जेठ, ननद आदि पर संयुक्त रुप से मिलकर हत्या कर तालाब में फेंकने का आरोप लगाया है.

घर और जमीन बेचने से मना करती थी मृतका

वहीं दूसरी ओर गोमिया इंस्पेक्टर आरएस दास को मृतका की 12 वर्षीय पुत्री ने बयान देते हुए अपनी मां के हत्यारे अपने पिता को बताते हुए कहा कि घर और जमीन पिताजी व दादाजी बेचना चाहते थे. लेकिन मां ऐसा करने से रोक रही थी, जिस कारण पूर्व में भी पिता व अन्य लोग मारपीट किया करते थे. कहा कि उसके पिता हर समय नशे में धुत रहते थे और मां इधर-उधर मजदूरी कर बच्चों का पालन पोषण करती थी. मृतका के चार बच्चे दो बेटी और दो बेटे हैं. पुलिस शव को पोस्टमार्टम हेतु चास अनुमंडलीय अस्पताल भेजने के साथ-साथ आरोपी से घटना की विस्तृत जानकारी जुटाने में लगी हुई. इस घटना के बाद से घटना के बाद से गांव में शोक और आरोपी पति के प्रति भारी आक्रोश देखा जा रहा है.

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस को बड़ा भाई बताना हेमंत का गोड्डा को लेकर कोई इशारा तो नहीं!

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: