JharkhandRanchiTOP SLIDER

भाजपा कार्यकर्ताओं को फिर से पिलाई जाएगी विचारधारा और अनुशासन की घुट्टी

पांच वर्षों से बंद प्रशिक्षण वर्ग परम्परा फिर से होगी शुरू

Ranchi: झारखंड में सत्ता से बेदखल होने के बाद प्रदेश भाजपा पुरानी परंपरा को पुनः शुरू करने जा रही है. भाजपा कार्यकर्ताओं को विचारधारा की घुट्टी फिर से पिलाई जाएगी ताकि सत्ता के लोभ में आये हुए कार्यकर्ता पार्टी की विचारधारा, संघ परिवार के संगठनों और उद्देश्य को सही से जान सकें. अनुशासन का महत्व भी समझ सकें. इसके लिए करीब 5 वर्षों से बंद प्रशिक्षण वर्ग की परंपरा फिर से शुरू की जा रही है.

 मंडल कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देने का निर्देश

शुरुआत जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं के साथ होगी. दिसंबर महीने में सभी जिला कमेटियों को अपने-अपने मंडल कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देने का निर्देश दिया गया है. रविवार को इसी संबंध में रांची में एक बैठक की गई. सभी जिलाध्यक्षों से जिला में होने वाले प्रशिक्षण वर्ग में प्रशिक्षण देने वाले कार्यकर्ताओं की सूची मांगी गयी है.

दिसंबर में कार्यशाला होगी, संस्थापक सदस्यों को मिलेगी तरजीह

दिसंबर में कार्यशाला होगी. इन कार्यशालाओं के जरिए पार्टी के पुराने नेताओं और नये नेताओं के बीच परिचय और घनिष्ठता तो बढ़ेगी ही. इससे कार्यकर्ताओं में अनुशासन भी आयेगा. यही वजह है कि विभिन्न विषयों की जानकारी देने के लिए पार्टी के संस्थापक सदस्य रहे नेताओं को भी तरजीह दी गई है.

इसे भी पढ़ें :सिमडेगा : ट्रिपल सवारी पड़ी महंगी, मोटरसाइकिल पेड़ से टकरायी,एक की मौत, दो की हालत गंभीर

संजय झा बनाये गये प्रशिक्षण वर्ग के कार्यक्रम प्रमुख

प्रशिक्षण वर्ग के कार्यक्रम प्रमुख संजय झा, सह प्रमुख मानस प्रसून व सदस्य मिल्टन पार्थसारथी बनाए गए हैं. कार्यशाला के विषय भी प्रदेश कमेटी में तय कर दिए हैं. जिला कमेटी ने उन विषयों की जानकारी देने वाले कार्यकर्ताओं का नाम तय कर प्रदेश को भेजे हैं.

इसके अनुसार पार्टी के इतिहास व विकास की जानकारी संजय झा व राजकुमार ननकी देंगे. सोशल मीडिया का उपयोग मिल्टन पार्थ सारथी व प्रियंका रंजन समझाएंगे. सुरक्षा सामर्थ्य के साथ आत्मनिर्भर भारत की जानकारी अरुण झा व रणविजय सिंह देंगे. 6 साल में अंत्योदय के लिए किए गए कार्यक्रम की जानकारी राजकुमार अग्रवाल व अरुण राय देंगे.

आज के समय में देश की वैचारिक मुख्यधारा भाजपा की विचारधारा इस विषय पर विष्णु त्रिपाठी व सुप्रभात कुमार जानकारी देंगे. पार्टी के विचार परिवार पर हरीश जोशी व शैलेश सिंह प्रकाश डालेंगे. व्यक्तित्व विकास पर मानस प्रसून व प्रियंका पाल चर्चा करेंगे.

झारखंड में पूर्ववर्ती भाजपा सरकार की उपलब्धि व भूमिका पर नितिन भट्ट व रजनीश तिवारी चर्चा करेंगे. हमारी कार्यपद्धति व संगठन विषय पर सत्येंद्र कुमार व चंद्रशेखर मुन्ना तथा 2014 के बाद भारत की राजनीति में बदलाव व भाजपा का दायित्व विषय पर रामदेव महतो व महेश पासवान जानकारी देंगे.

इसे भी पढ़ें :कोडरमा :  चाचा-चाची ने भतीजे को लात घूंसों से पीट-पीट कर मार डाला

पूरा फोकस सांगठनिक मजबूती पर

दरअसल प्रदेश भाजपा संगठन को धारदार बनाने की मुहिम पर जुट गयी है. मंडल से लेकर प्रदेश स्तर तक एक मुहिम के तहत भाजपा कार्यक्रम तय करेगी, जिसमें पूरा का पूरा फोकस सांगठनिक मजबूती ही रहेगी. सत्ता से बेदखल होने के बाद जनता के बीच किन-किन मुद्दों को लेकर काम  किया जाय इस पर मंथन चल रहा है. भाजपा अपने विचारधारा को किस तरह से ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाए इसको लेकर मंडल से जिला स्तर तक काम शुरू होगा.

इसे भी पढ़ें :सूचना आयुक्तों की नियुक्ति : सरकार ने भाजपा के पाले में फेंकी गेंद, बाबूलाल को छोड़कर मांगा दूसरा नाम

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: