DumkaJharkhand

भाजपा की कार्यशैली से भाजपा कार्यकर्ता ही त्रस्त : इरफान अंसारी

Dumka: भाजपा की कार्यशैली से सबसे ज्यादा भाजपा कार्यकर्ता ही त्रस्त हैं. सांसद एवं विधायक निधि के फंड से ही भाजपा कार्यकर्ता ही वंचित हैं. निधि की राशि पर बाहरी लोगों का कब्जा है. उक्त बातें जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी ने गुरुवार को परिसदन भवन में आयोजित प्रेसवार्ता में कहीं. उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं को जात-पात और धर्म की राजनीति में उलझा कर रख दिया गया है.

Advt

उन्होंने गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे पर प्रहार करते हुए कहा कि सांसद का चेकडैम निर्माण कार्य में संवेदी कंपनी हरदेव कंस्ट्रक्शन के साथ साझेदारी है. अपने निजी फायदे के लिए जबरन सुगाबथान के लोगों को विस्थापित करने पर लगें हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में भी सुगाबथान में चैकडैम निर्माण की बात हुई थी. जिसे कांग्रेस ने नामंजूर कर आदिवासी एवं मूलवासी के हित में कार्य किया था. उन्होंने कहा कि निशिकांत दुबे की वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में जमानत जब्त हो जायेगी.

इसे भी पढ़ेंःगिरिडीह : हेवी ब्लास्टिंग से घरों में पड़ी दरारें, खनन पदाधिकारी ने की जांच

प्रदीप यादव उपमुख्यमंत्री पद के दावेदार

डॉ इरफान ने महागठबंधन में गोड्डा लोकसभा सीट से कांग्रेस की दावेदारी पेश की. साथ ही झाविमो महासचिव प्रदीप यादव को महागठबंधन के उपमुख्यमंत्री का दावेदार बताया. उन्होंने कहा कि प्रदीप यादव से निजी तौर पर बात हुई थी. जिसमें उन्होंने उपमुख्यमंत्री बनने की ईच्छा जतायी थी. सरकारी उपक्रम समिति सदस्य एवं विधायक होने के नाते डॉ इरफान ने कहा कि समाज कल्याण विभाग में खामियां ही खामियां नजर आयीं. उन्होंने कहा कि आदिवासियों के उत्थान के लिए सरकार की गव्य विकास के अंर्तगत आने वाली विभिन्न योजनाएं धरातल पर नहीं उतर सकीं.  इस मद में आनेवाला सारा पैसा लैप्स कर गया.

इसे भी पढ़ेंःपीके रॉय सहित राज्य के सभी कॉलेजों में शिक्षकों ने लगाया काला बिल्ला

कांग्रेस विस्थापितों के साथ

डॉ इरफान ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि विभाग में अल्पसंख्यक समाज एवं आदिवासी समाज के बच्चों को आठवीं कक्षा में साईकिल की राशि मुहैया करवायी गयी थी, लेकिन एक भी साईकिल अब तक वितरण नहीं होना आदिवासी एवं अल्पसंख्यक समाज के प्रति सरकार की चेतना दर्शाती है. मसानजोर विस्थापन पर डॉ इरफान ने कहा कि विस्थापितों के साथ कांग्रेस है. वर्तमान सरकार बिजली उत्पादन नहीं कर सकी. उनकी सरकार होगी तो, बिजली सहित अन्य सुविधा मुहैया नहीं होने पर पश्चिम बंगाल को जाने वाले पानी पर रोक लगा दी जायेगी.

Advt

Related Articles

Back to top button