NEWS

बंगाल के हुगली में भाजपा कार्यकर्ता का मिला शव, तृणमूल कांग्रेस पर हत्या का आरोप

Kolkata. बंगाल के हुगली जिले में रविवार को एक भाजपा कार्यकर्ता गणेश राय का शव पेड़ से लटका मिला. इसको लेकर एक बार फिर राजनीतिक माहौल गरमा गया है. पुलिस ने बताया कि भाजपा कार्यकर्ता गणेश राय का शव गोघाट इलाके के खांटी में अपने गांव के पास सुबह एक पेड़ से लटका मिला.

मृतक के बेटे अभिजीत राय व भाजपा नेताओं का आरोप है कि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने उनकी हत्या करके शव को पेड़ के सहारे फंदे से लटका दिया है. बेटे का यह भी आरोप है कि लोकसभा चुनाव के बाद से ही तृणमूल समर्थित गुंडे उनके पिता को जान से मारने की धमकी दे रहे थे. वहीं, तृणमूल ने आरोपों से इनकार किया है. बताया जा रहा है कि राय शनिवार शाम से ही लापता थे.

advt

ये भी पढ़े- फर्जी कागजात के आधार पर गिरिडीह के पचंबा में हो रहा जमीन का अवैध कारोबार

पुलिस ने कहा कि उनकी मौत के पीछे की परिस्थितियों की जांच की जा रही है. इस घटना से गुस्साए भाजपा कार्यकर्ताओं ने कुछ समय के लिए गोगाट-आरामबाग रोड को जाम करके विरोध जताया और दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग की. बाद में पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर अवरोध हटवाया.

इधर, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष व सांसद दिलीप घोष ने भी आरोप लगाया कि राय की हत्या कर तृणमूल ने फिर उनका शव पेड़ से लटका दिया. उन्होंने कहा कि ये सब कुछ आधी रात में किया ताकि इलाके में उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं में दहशत फैलाई जा सके. उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारने का एक नया चलन बन गया है, लेकिन हम एक मजबूत विरोध शुरू करेंगे.

उन्होंने कहा कि भाजपा के बढ़ते समर्थन से तृणमूल डर गई है. हुगली से भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी ने कहा कि इस क्रूरता को रोकने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के चैंपियन कहां हैं और बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्याओं पर वे चुप क्यों हैं?

वहीं, तृणमूल के जिला अध्यक्ष दिलीप यादव ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उनकी पार्टी का कोई भी सदस्य इस घटना में शामिल नहीं है. उन्होंने कहा कि भाजपा अपने ही लोगों को मारकर खून की राजनीति कर रही. किसी भी मौत को हत्या का रूप देकर भाजपा के लोग अशांति फैलाने का काम कर रहे हैं.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद होगा खुलासा

इधर, आरामबाग महकमा के पुलिस अधिकारी निर्मल कुमार दास ने बताया कि सुबह हमलोगों ने गोघाट रेलवे स्टेशन से महज 100 मीटर की दूरी पर एक पेड़ से गणेश राय नामक व्यक्ति का शव बरामद किया है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. उनका कहना है कि गणेश शराबी था. वह आए दिन शराब पीकर रात के वक्त घर नहीं लौटा करता था. उसके शरीर पर चोट के निशान नहीं मिले हैं. पुलिस जांच कर रही है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा.

हाल में कई भाजपा कार्यकर्ताओं की हो चुकी है संदिग्ध मौत

गौरतलब है कि हुगली जिले के आरामबाग महकमा के खानाकुल इलाके में 15 अगस्त को झंडा फहराने को लेकर विवाद में सुदर्शन प्रमाणिक नामक एक भाजपा नेता की कथित हत्या कर दी गई थी. इसकी आग अभी बुझी भी नहीं थी कि एक बार फिर जिले में भाजपा कार्यकर्ता की संदिग्ध मौत से माहौल गरमा गया है.

इससे पहले 28 जुलाई को पूर्व मिदनापुर जिले के हल्दिया में भाजपा के बूथ अध्यक्ष का शव लटका मिला था. उस घटना से पहले 13 जुलाई को उत्तर दिनाजपुर जिले के हेमताबाद के भाजपा विधायक देबेन्द्र नाथ राय का शव उनके घर के पास रस्सी से लटका मिला था. पिछले कुछ वर्षों में बंगाल में कई भाजपा कार्यकर्ताओं के शव राज्य के विभिन्न हिस्सों में लटके मिले हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: