JharkhandLead NewsRanchi

हेमन्त सरकार की जनविरोधी नीतियों पर सदन में सरकार को पुरजोर घेरेगी भाजपा

Ranchi: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश की अध्यक्षता में भाजपा विधायक दल की बैठक प्रदेश कार्यालय में सम्पन्न हुई. विधायक दल की बैठक में  मानसून सत्र को लेकर चर्चा हुई. जिसमें नियोजन नीति, नेता प्रतिपक्ष, महिला अत्याचार, नगर निगम, विधि व्यवस्था,घोषणाओं से  वादा खिलाफी समेत कई मुद्दे पर सरकार को घेरने की रणनीति तैयार की गई.

विधायक दल की बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए  पार्टी के मुख्य सचेतक एवम  विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि मानसून सत्र में नियोजन नीति रद्द करने की मांग को पुरजोर तरीके से मुद्दा उठाया जाएगा.

भाजपा ने बनाई कमिटी

इससे संबंधित एक कमेटी बनाई गई है. जिसके संयोजक भानु प्रताप शाही को बनाया गया है, जबकि समिति में  नीलकंठ सिंह मुंडा, सीपी सिंह, अमर बाउरी, अनंत ओझा शामिल हैं. यह कमेटी नियोजन नीति के खामियों को लेकर एक ड्राफ्ट तैयार करते हुए सदन और सदन के बाहर पार्टी संघर्ष करेगी.

वहीं प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए विधायक भानु प्रताप शाही ने कहा कि पंगु हेमन्त सरकार के नियोजन नीति को रद्द करने को बाध्य करेंगे. उन्होंने कहा कि 19 महीने में 19 को भी रोजगार नहीं दिया. युवाओं को, महिलाओं को, किसानों को ठगने का कार्य किया है. सभी मुद्दे पर सरकार को घेरने का कार्य करेंगे. सरकार बालू, कोयला चोरी में व्यस्त है. सरकार ट्रांसफर पोस्टिंग के खेल में व्यस्त है. साथ ही उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष बंधु तिर्की के सदयता को रद्द किया जाए.

जब मामला स्पीकर के यहां लंबित है फिर बंधु तिर्की को कैसे  कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है. यह मामला राज्य सरकार के इशारे पर विधानसभा अध्यक्ष का मख़ौल उड़ा रहा है.

श्री शाही ने कहा कि हेमंत जी दिल्ली से निवेश लेकर नही लौटे बल्कि टेरर फंडिंग करने वाले से गले मिलकर आये हैं.

सर्वदलीय बैठक में विधायकदल के नेता को आमंत्रित नही किये जाने के कारण भाजपा ने आज बैठक का बहिष्कार किया.

बैठक में प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश, नेता विधायक दल बाबूलाल मरांडी, प्रदेश प्रभारी दिलीप सैकिया, क्षेत्रीय संगठन मंत्री नागेंद्र नाथ त्रिपाठी, संगठन मंत्री धर्मपाल सिंह, विधायक अमर कुमार बाउरी, किशुन दास, अमित मंडल, नारायण दास, शशि भूषण मेहता, अनंत ओझा, बिरंची नारायण, भानु प्रताप शाही, समरीलाल, ढुल्लू महतो, कोचे मुंडा, केदार हाजरा, पुष्पा देवी, रामचंद्र चन्द्रवंशी, अपर्णा सेन गुप्ता, नीरा यादव, जेपी पटेल, आलोक चौरिसिया, मनीष जायसवाल, राज सिन्हा, नवीन जायसवाल, नीलकंठ सिंह मुंडा, सीपी सिंह, रणधीर सिंह उपस्थित रहे. इंद्रजीत महतो बीमार रहने के कारण अनुपस्थित रहे.

इसे भी पढ़ें :कोडरमा में जर्जर सड़क का मामलाः हाइकोर्ट ने एनएचएआइ से पूछा- एक ही बरसात में क्यों बह गयी सड़क

Related Articles

Back to top button