न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

घुसपैठियों को चुन-चुन कर निकालने का काम भाजपा सरकार करेगी : अमित शाह

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि आगामी चुनाव जीतने के बाद देश भर में घुसपैठियों को चुन-चुन कर निकालने का काम भाजपा सरकार करेगी.

113

Shivpuri : भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि आगामी चुनाव जीतने के बाद देश भर में घुसपैठियों को चुन-चुन कर निकालने का काम भाजपा सरकार करेगी. कहा कि असम सहित देश भर में घुसपैठियों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई को लेकर कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दल वोट बैंक की राजनीति कर रहे हैं. इस क्रम में शाह ने कहा कि भाजपा देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने एवं भारतीयों के अधिकारों की पक्षधर है. शाह यहां पोलो ग्राउंड में ग्वालियर एवं चंबल संभाग के नौ जिलों के कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. कहा कि  असम में भाजपा  एनआरसी लेकर आयी है, जो घुसपैठियों की पहचान के लिए है. उऩ्होंने पूछा,  मुझे बताओ देश में से घुसपैठियों को निकालना चाहिए या नहीं.

अमित शाह ने  कार्यकर्ताओं से कहा कि 1970 से हम मांग करते आ रहे हैं कि घुसपैठिये निकाले जाने चाहिए. एनआरसी की प्रथम सूची में 40 लाख लोग चिन्हित हो गये हैं, उनको निकालने का रास्ता धीरे-धीरे बन रहा है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020
इसे भी पढ़ें –   सीबीआई निदेशक का अरुण शौरी व प्रशांत भूषण से मिलना मोदी सरकार को नागवार गुजरा !

राहुल बाबा एंड कंपनी पूरी संसद के अंदर हाय तौबा मचा रही है

सभा में अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा.  तंज कसते हुए शाह ने कहा, कांग्रेस की राहुल बाबा एंड कंपनी पूरी संसद के अंदर हाय तौबा मचा रही है. मार डाला, क्यों निकाल रहे हो, क्या खायेंगे, इनके मानवाधिकार का क्या होगा. जैसे उनकी नानी मर गयी हो. कहा कि मैं राहुल, सपा, बसपा एवं तृणमूल कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि आपको इनके मानवाधिकार का ख्याल है. ये घुसपैठिये हमारे देश में बम धमाके करते हैं.  देश के निर्दोष लोगों की हत्याएं इन्होंने की.  शाह ने आरोप लगाया कि राहुल को घुसपैठिए में वोट बैंक नजर आता है. राहुल बाबा को जितनी हाय तौबा करनी है, कर ले.  2018-19 में चुनाव जीतने के बाद भाजपा सरकार देश भर में घुसपैठियों को चुन-चुन कर निकालने का काम  करेगी.

इसे भी पढ़ें – अल्पेश ठाकोर ने यूपी और बिहार के सीएम को लिखा खुला पत्र, कहा- हमले के लिए जिम्मेदार नहीं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like