न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

असफलताओं को छिपाने के लिए राम मंदिर का सहारा ले रही भाजपा, तीन राज्यों ने दिखाया आईना : वृंदा करात

37
  • सार्वजनिक सुविधाओं को मॉब लिंचिंग से जोड़ रही सरकार

Ranchi : देश की जो वर्तमान परिस्थिति है, उसमें मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ से जनता ने भाजपा को आईना दिखाने का काम किया है. जनता समझ गयी है कि सरकार की मंशा क्या है. उक्त बातें भाकपा (एम) पोलित ब्यूरो सदस्य वृंदा करात ने प्रेस वार्ता के दौरान पार्टी कार्यालय में कहीं. उन्होंने कहा कि मोदी की साढ़े चार साल के कार्यकाल में किसानों और मजदूरों के हित में कोई निर्णय नहीं लिया गया. न ही किसानों की राहत के लिए कोई योजना बनायी गयी. इसका खामियाजा भाजपा ने भुगता. भले ही मोदी और शाह अपने बचाव में बयान दें, लेकिन सच यही है कि इन चार सालों में जनता को जो परेशानी हुई है, उसका जवाब जनता देगी ही. उन्होंने कहा कि भाजपा जानती है कि आनेवाले चुनाव में उसे हार का सामना करना पड़ेगा, इसलिए भाजपा धर्म के नाम पर ध्रुवीकरण कर रही है. राम मंदिर का सहारा लेकर जनता को बरगलाया जा रहा है. मोदी, शाह के बाद योगी आदित्यनाथ भी इन मामलों में शामिल हैं. यूपी में सांप्रदायिक हिंसा बढ़ाने में उनकी भूमिका रही है.

संवैधानिक संस्थाओं पर हमले कर रही सरकार

वृंदा करात ने कहा कि सीबीआई और आरबीआई के मामले कम थे क्या, जो राफेल डील के मामले में भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट को भी निर्णय बदलने कह रही है. उन्होंने कहा कि राफेल डील से संबंधित तथ्य सरकार ने जो संसद में पेश किया और जो सुप्रीम कोर्ट में पेश किया, उन सभी में काफी अंतर है. समझा जा सकता है कि सरकार डिफेंस को भी भ्रमित कर रही है. ऐसे में जरूरी है कि संसद में ज्वॉइंट पार्लियमेंटरी कमिटी (जेपीसी) का फिर से गठन किया जाये.

सार्वजनिक सुविधाओं को मॉब लिंचिंग से जोड़ रही राज्य सरकार

वृंदा करात ने कहा कि लातेहार में हुई मॉब लिंचिंग पर रघुवर सरकार ने एक लाख रुपये का मुआवजा पीड़ित परिवार को दिया. जब एनएचआरसी को मुआवजे की राशि बढ़ाने के लिए 2016 में पत्र लिखा गया, तो दो साल बाद अब जवाब आया कि पीड़ित परिवार को सरकार ने राशन कार्ड, घर में शौचालय निर्माण, विधवा पेंशन,  बच्चों को आंगनबाड़ी में भर्ती कराने की सुविधा दी है. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक सुविधाएं सभी के लिए हैं, इसे मॉब लिंचिंग से नहीं जोड़ा जा सकता. पत्थलगड़ी मामले पर उन्होंने कहा कि सरकार खुली एफआईआर करना बंद करे.

राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन नहीं बनेगा

2019 में होनेवाले चुनाव के बारे में उन्होंने कहा कि हर प्रदेश की अलग-अलग स्थिति है. पार्टी का मुख्य कार्य भाजपा को हटाना है. वहीं, पार्टी किसानों और मजदूरों के हित के साथ चुनाव में झंडा लहरायेगी. चुनाव संपन्न होने के बाद ही तय किया जायेगा कि कौन पीएम बनने योग्य है. इसके लिए अभी से राष्ट्रीय गठबंधन बनाने की कोई योजना नहीं है. धर्मनिरपेक्ष सरकार का गठन हो.

इसे भी पढ़ें- डोरंडा बाजार में अब नहीं होगा स्थायी निर्माण, हाई कोर्ट के फैसले के बाद सरकार ने लिया निर्णय

इसे भी पढ़ें- कड़ाके की ठंड में शराब नीति पर झूम रही झारखंड की राजनीति

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: