न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#BJP ने आदिवासियों की जमीन छीन उद्योगपतियों को दी, मगर किसानों का कर्ज माफ नहीं: राहुल गांधी

60
  • कोलेबिरा और सिमडेगा के कांग्रेस प्रत्याशियों के चुनावी जनसभा में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का बीजेपी पर हमला
  • गठबंधन की सरकार बनने पर आदिवासियों, गरीबों और किसानों के अधिकारों की रक्षा करने का राहुल गांधी का वादा

Simdega: सिमडेगा और कोलेबिरा से कांग्रेस प्रत्याशी के चुनावी जनसभा को संबोधित करने सिमडेगा पहुंचे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी पर आदिवासी विरोधी होने का बात कही. राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी शासित राज्यों में उद्योगपतियों को आदिवासियों की जमीनें छीन कर तो दे दी जाती हैं, लेकिन कर्ज में डूबे किसानों का कर्ज माफ नहीं होता ना ही उन्हें उनके अनाजों का सही दाम मिल पाता है.

इस दौरान राहुल गांधी ने राज्य में गठबंधन की सरकार बनने पर पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ की तर्ज पर झारखंड में भी किसानों की कर्ज माफी और उद्योगपतियों को दी गयी जमीन आदिवासियों को वापस देने का वायदा किया.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इस दौरान कांग्रेस प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह, सह प्रभारी उमंग सिंगार, पूर्व केंद्रीयमंत्री सुबोधकांत सहाय, कोलेबिरा और सिमडेगा से प्रत्याशी नमन विक्सल कोंगाड़ी,और भूषण बाड़ा, खूंटी से लोकसभा चुनाव लड़ चुके कालीचरण मुंडा और विशनपुर से गठबंधन प्रत्याशी चमरा लिंडा उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – डर के माहौल में राहुल बजाज की बगावत

सरकार बनने पर किसान, गरीब और आदिवासियों के सभी अधिकारों की होगी रक्षा

भगवान बिरसा मुंडा, तिलका मांझी, जयपाल सिंह मुंडा जैसे स्वतंत्रता सेनानियों को नमन करते हुए राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि झारखंड की तरह छत्तीसगढ़ भी आदिवासी बहुल राज्य है. वहां जल-जंगल-जमीन की कमी नहीं है. ठीक एक साल पहले तक सत्ता से बेदखल किए गए बीजेपी राज्य में आदिवासियों का खूब शोषण होता था.

छत्तीसगढ़ के तत्कालीन बीजेपी सरकार ने वहां के आदिवासियों को कुचलने में कोई कसर नहीं छोड़ा. टाटा कंपनी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी राज में राज्य के हर जिले में बिना कारण बताये आदिवासियों की जमीन टाटा जैसे पूंजीपतियों को दी जाती थी. जैसे ही कांग्रेस की सरकार सत्ता में आयी, वहां फॉरेस्ट क़ानून बनाकर टाटा को दी गई जमीन वापस लेकर आदिवासी को सौंपी गयी.

राहुल गांधी ने कहा कि इसका एकमात्र उद्देश्य आदिवासियों के हित में यूपीए सरकार द्वारा लाये भूमि अधिग्रहण बिल को सही दिशा में लागू करना था. छत्तीसगढ़ में किसानों को मिल रहे उनके अनाजों के सही दाम का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ चाहे देश का ऐसा प्रदेश होगा, जहां किसानों को उनके धान का प्रति क्विंटल 2500 रुपये दिया जा रहा है.

छत्तीसगढ़ के चुनाव के पहले कांग्रेस ने किसानों को उनके अनाजों को सही दाम देने सहित कर्ज माफी का वादा किया था. जैसे ही छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आयी, इन वादों को पूरा किया.

लेकिन वर्तमान में बीजेपी शासित प्रदेशों में कहीं भी किसानों को ना उनके अनाजों को सही दाम मिल रहा है और ना ही उनका कर्ज माफ किया जा रहा है. राहुल गांधी ने एक बार फिर वादा किया कि झारखंड में गठबंधन और कांग्रेस की सरकार बनने पर किसान, गरीब और आदिवासियों के सभी अधिकारों की प्रमुखता से रक्षा की जाएगी.

इसे भी पढ़ें – प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को ‘घुसपैठिया कहने पर लोकसभा में हंगामा, अधीर रंजन की माफी पर अड़ी भाजपा

अपने 15 सहयोगी उद्योपतियों की मोदी सरकार ने की मदद 

मोदी सरकार में बेरोजगारी को सबसे प्रमुख मुद्दा मानते हुए राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री रघुवर दास अपने हर भाषण में मेक इन इंडिया और रोजगार देने का दंभ भरते हैं. लेकिन हकीकत यही है कि पिछले 6 वर्षों से देश के सभी युवा रोजगार नहीं मिलने से काफी चिंतित हैं.

2014 के पहले मोदी सरकार सत्ता में आने पर काले धन वापस लाने की बात करती थी, लेकिन सत्ता में आते ही नोटबंदी जैसा कानून लागू कर गरीबों के धन को लूट, जो कि करीब 3 लाख 50 हजार करोड़ रुपये था. इतना ही नहीं इन लुटे हुए धन को मोदी सरकार ने अपने 15 सहयोगी उद्योगपतियों को सौंप दिया.

इसी तरह जीएसटी (गब्बर सिंह टैक्स) लाकर मोदी सरकार ने व्यापारियों पर भी काफी चोट की, जिसका फायदा उन्हीं 15 सहयोगी उद्योगपतियों को मिला. लेकिन देश के युवाओं को रोजगार देने और किसानों को कर्ज माफी के सवाल पर मोदी सरकार हमेशा पीछे ही रही.

आरपीएन सिंह ने भीड़ को बताया परिवर्तन की आंधी

इस दौरान प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह ने भीड़ को परिवर्तन की आंधी बताते हुए कहा कि लोकसभा के दौरान खूंटी से कांग्रेस प्रत्याशी काली चरण मुंडा के हार को बीजेपी द्वारा ईवीएम मशीन में छेड़छाड़ करना था.

भीड़ में आये लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि आप कांग्रेस प्रत्याशियों को इतना मत दें कि बीजेपी गड़बड़ी करना भी चाहे तो भी वह सफल नहीं हो पाये. आरपीएन ने यहां तक कहा कि आज जो छोटी-छोटी पार्टियां चुनाव लड़ रही हैं, वह सभी बीजेपी की पिछल्लगू है. जरूरी है इससे बचते हुए महागठबंधन प्रत्याशी को जीत दिलायी जाए.

इसे भी पढ़ें – लोकसभा चुनाव में जिसने अर्जुन मुंडा को जिताने का काम किया, जेएमएम ने उसे ही बनाया उम्मीदवार : काली चरण मुंडा

बाहरी मुख्यमंत्री को बैठाकर बीजेपी ने आदिवासियों के शोषण को बढ़ाया आगे

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने बताया कि बीजेपी ने हमेशा आदिवासियों को ठगने और पीछे करने का काम किया है. झारखंड बनने के बाद जरूरी था कि राज्य की सत्ता आदिवासियों का हाथ में रहे.

लेकिन बाहरी मुख्यमंत्री को बैठाकर बीजेपी ने आदिवासियों के शोषण को खूब आगे बढ़ाया. कांग्रेस को गांव और गरीबों की पार्टी बताते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जरूरी है, ऐसे सीएम को सत्ता से बाहर करने के लिए वे कांग्रेस को वोट दें.

राहुल गांधी भविष्य में बनेंगे देश के प्रधानमंत्री : चमरा लिंडा

गठबंधन से बिशनपुर प्रत्याशी सह वर्तमान विधायक चमरा लिंडा ने राहुल गांधी को तो भविष्य का पीएम बताया. उन्होंने कहा कि ऊपर वाले के घर में थोड़ा लेट हो रहा है, लेकिन राहुल गांधी भविष्य में देश के प्रधानमंत्री बनेंगे. क्योंकि पूरे देश के ओबीसी, हरिजन, गरीब आदिवासियों की शुभकामनाएं राहुल गांधी के साथ हैं.

उन्होंने कहा कि यूपीए ने अपने शासन में आदिवासी हित में कई कानून बनाए थे. लेकिन एनडीए ने इन सभी कानूनों को बदलकर आदिवासियों का शोषण करने का काम किया है. बीजेपी के सहयोगी आरएसएस का एजेंडा यही है कि आदिवासियों को पिछड़ा रखते हुए इनका शोषण किया जाए.

साथ ही कहा कि आज बीजेपी ने एक गैर आदिवासी को सीएम बनाकर उनके आत्मसम्मान पर चोट की है. जरूरी है ऐसे शोषित सरकार को सत्ता से बाहर किया जाए.

इसे भी पढ़ें – #Internet व #Call दर बढ़ाये जाने पर प्रियंका गांधी ने कहा, अमीर दोस्तों को फायदा पहुंचा कर गरीबों की जेब काट रही है भाजपा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like