न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रज्ञा सिंह ठाकुर जैसी भगवाधारी पर बीजेपी कठोर कार्रवाई करे :  कांग्रेस

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जैसे नेता चुनाव जीतकर गलती से भी संसद पहुंचते है, तो देश का भविष्य खतरे में पड़ जायेगा

eidbanner
52

Ranchi : बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के नाथू राम गोडसे पर दिये बयान को आड़े हाथों में लेते हुए कांग्रेस पार्टी ने इसे एक दुर्भाग्यपूर्ण बयान बताया है. पार्टी का कहना है कि भोपाल से बीजेपी के उम्मीदवार का बयान कि नाथू राम गोडसे देशभक्त थे,  हैं और रहेंगे… प्रज्ञा और बीजेपी की मानसिकता को बताता है. पार्टी प्रवक्ता राजेश गुप्ता और आलोक कुमार दुबे ने  कहा कि ऐसे भगवाधारी के उपर बीजेपी को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें – आयुष्मान योजना का हाल : इंप्लांट के इंतजार में मरीज, 2 महीने तक नहीं हो पा रहा ऑपरेशन

संसद पहुंचने पर देश का भविष्य खतरे पड़ जाएगा

उन्होंने कहा कि धर्म और भगवा की आड़ में ऐसे नेता हिंदू धर्म को अपमानित एवं बदनाम करते हैं. वैसे तो भोपाल की जनता किसी भी कीमत पर प्रज्ञा को  चुनाव नहीं जिताना चाहती है. लेकिन अगर फिर भी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जैसे नेता चुनाव जीतकर गलती से भी संसद पहुंचते है, तो देश का भविष्य खतरे में पड़ जायेगा और हमारी युवा पीढ़ी आज के राजनीतिक दलों को कभी माफ नहीं करेगी.

इसे भी पढ़ें – सीएम ने फिर किया दावाः एक लाख को दे चुके हैं नौकरी, एक महीने में और 50 हजार शिक्षकों को करेंगे नियुक्त

पूरा विश्व बापू की विचारधारा मानता है बीजेपी में आतंकी विचारधारा आज भी जिंदा

पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि आजाद हिंदुस्तान की पहली गोली राष्ट्रपिता के सीने पर चली और गोली चलाने वाला आरएसएस विचारधारा को मानने वाले नाथू राम गोडसे था. बापू की हिंसा वाली विचारधारा आज भी जिंदा है और पूरी दुनिया उनके पद चिन्हों पर चलने का संकल्प लेती है. वही यह भी दुर्भाग्य है कि बीजेपी में हिंसा और आतंक फैलाने वालों की विचारधारा भी जिंदा है जो नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताते हैं.

बीजेपी ऐसे ही आतंक और हिंसा प्रवृत्ति के लोगों को टिकट देकर संसद पहुंचाना चाहती हैं. जिसका पार्टी निंदा करती है. साथ ही मांग करती है कि प्रज्ञा ठाकुर जैसे घृणित सोच के नेता को कानून के दायरे में लाकर कठोर सजा मिलनी चाहिए.

गत वर्ष भी घटना की हुई थी पुनरावृत्ति

गत वर्ष 2 अक्टूबर (बापू की जयंती) को घटी एक घटना का जिक्र करते हुए कहा कि उस दिन भी एक भगवाधारी साध्वी पूजा ने खून की थैली लटकाकर बापू का पुतला बनाया था. और स्वंय नाथू राम गोडसे बनकर दुबारा बापू को गोली मारने की घटना की पुनरावृत्ति की थी.

इसे भी पढ़ें – अंतिम चरण: 45 लाख 64 हजार मतदाता करेंगे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: