न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सांसद नहीं रख सके अमित शाह के सामने ‘मन की बात’,  अब 19-20 जनवरी का इंतजार

सभाओं में भीड़ जुटाने का काम अधिकारियों को दिये जाने से नाराज हैं कार्यकर्ता

2,448
  • 19 व 20 को दो दिवसीय दौरे पर अमित शाह आयेंगे झारखंड
  • सात जनवरी को लोकसभा चुनाव प्रभारी मंगल पांडेय आयेंगे

Akshay Kumar Jha

Ranchi: बीजेपी लोकसभा चुनाव को लेकर क्लीन स्वीप फॉर्मूले की घोषणा पहले ही कर चुकी है. इस दिशा में झारखंड में पार्टी रेस भी है. सात जनवरी को झारखंड लोकसभा चुनाव के प्रभारी मंगल पांडेय झारखंड आ रहे हैं. इस दौरान लगातार दो दिनों तक पार्टी की हाईलेवल मीटिंग चलेगी. प्रदेश भर से पार्टी से जुड़े हर बड़ी  शख्सियत को बुलाया जा रहा है. संसद सत्र चलने की वजह से कुछ सांसद भले ही पार्टी की इस बैठक में ना आएं,  लेकिन ज्यादातर सांसदों की बैठक में पहुंचने की सूचना है. इधर लोकसभा सत्र के बहाने दिल्ली में डेरा जमाये सांसद अमित शाह से मिलने और अपने मन की बात रखने की पूरी कोशिश में हैं. लेकिन चार जनवरी तक झारखंड के सांसदों को यह मौका नहीं मिल पाया है. तीन जनवरी को सांसदों के साथ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात होने की बात थी. लेकिन वो हो नहीं पाया.

धर्मेंद्र प्रधान के आवास पर दबी जुबान में सांसदों ने रखी अपनी बात

तीन जनवरी को केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के आवास पर बीजेपी के सांसदों की बैठक थी. पहले बताया गया था कि अमित शाह भी इस बैठक में हिस्सा ले सकते हैं. लेकिन ऐसा नहीं हुआ है. अमित शाह बैठक में नहीं आए. बैठक में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, राष्ट्रीय संगठन मंत्री रामलाल और राष्ट्रीय महामंत्री अरुण सिंह मौजूद थे. झारखंड के दो सांसदों को छोड़ शेष सभी 10 सांसद बैठक में मौजूद थे. बताया जा रहा है कि झारखंड के सांसदों ने सामुहिक रूप से नाराजगी जतायी. सांसदों का कहना था कि राज्य सरकार के कामकाज करने के तरीके से उनके कार्यकर्ता नाराज हैं. राज्य में अधिकारी बेलगाम हैं. पहले कार्यकर्ता किसी भी आयोजन में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते थे. पार्टी के कार्यक्रमों में कार्यकर्ताओं की गर्मजोशी और उत्साह बना रहता था. लेकिन अब कार्यक्रम होने पर भीड़ जुटाने और वाहन की व्यवस्था करने का काम अधिकारियों को दे दिया जाता है. इस नयी परिपाटी से कार्यकर्ताओं में नाराजगी है. अधिकारी भीड़ जुटाने के नाम पर सहिया-सहायिका की जमात ले आते हैं. इससे आम जन और कार्यकर्ताओं के बीच दूरी बढ़ रही है. सांसदों ने बैठक में इस समस्या पर गहन चर्चा करने की कोशिश की कि कैसे नाराज कार्यकर्ताओं को चुनाव से पहले मनाया जाये. ताकि पिछले चुनाव से बेहतर परिणाम मिले. हालांकि इस बैठक में मौजूद पार्टी के लोग किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच सके.

मंगल पांडेय सात जनवरी को आयेंगे

पुष्ट सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 19 और 20 जनवरी को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह झारखंड के दौरे पर आयेंगे. वो पहले गोड्डा में सांसद निशिकांत दुबे के एक कार्यक्रम में भाग लेंगे. बताया जा रहा है कि गोड्डा से वो एक दिन के लिए रांची आ सकते हैं. हालांकि इस बात की पुष्टि पार्टी के तरफ से नहीं की गयी है. लेकिन बताया जा रहा है कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी के सांसद अपने मन की बात राष्ट्रीय अध्यक्ष के सामने इसी आयोजन के दौरान रखने की सोच रहे हैं. उससे पहले चुनावी रणनीति पर बात करने के लिए लोकसभा चुनाव के प्रभारी मंगल पांडेय सात जनवरी से रांची में दरबार लगा रहे हैं. बैठक में लोसकभा चुनाव के अलावा और किसी बात पर चर्चा नहीं होने की पूरी संभावना है. बैठक को लेकर कार्यकर्ता से लेकर बड़े नेता ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है.

इसे भी पढ़ेंः अतीक अहमद बरेली जेल में, जेल अधीक्षक ने जिलाधिकारी से गनर मांगा, सुरक्षा बढ़ाने की मांग की

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: