न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भाजपा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने कहा, #Air_India को बेचने का फैसला देशविरोधी, कोर्ट जाऊंगा

एयर इंडिया पर 80 हजार करोड़ रुपये का बकाया है. 17 मार्च तक एयर इंडिया के लिए बोली लगाई जा सकती है.

84

 NewDelhi : एयर इंडिया को बेचने के फैसला देशविरोधी है. यह कहना है भाजपा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी का. जान लें कि मोदी सरकार कर्ज के बोझ से दबी सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया को बेचने की कवायद में है. सरकार ने एयर इंडिया में 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने का फैसला किया है.

मंत्री समूह ने 7 जनवरी को प्रस्ताव को मंजूरी दी थी

Aqua Spa Salon 5/02/2020

बता दें कि गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में बने एक मंत्री समूह ने 7 जनवरी को इस सरकारी विमानन कंपनी के निजीकरण से जुड़े प्रस्ताव को मंजूरी दी थी. एयर इंडिया पर 80 हजार करोड़ रुपये का बकाया है. 17 मार्च तक एयर इंडिया के लिए बोली लगाई जा सकती है.

इस संबंध में राज्यसभा सांसद और भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने कहा है कि एयर इंडिया को बेचे जाने के खिलाफ वह कोर्ट में अपील करेंगे. जान लें कि चर्चित राज्यसभा सांसद ने सरकार के फैसले पर ही सवाल उठाया है. उन्होंने एयर इंडिया को बेचने के फैसले को देशविरोधी करार दिया है.

एक निजी चैनल से बातचीत के क्रम में स्वामी ने कहा कि एयर इंडिया को बेचने के लिए प्रक्रिया आज से शुरू हो रही है. यह डील पूरी तरह से देशविरोधी है और मजबूरी में मुझे कोर्ट जाना पड़ेगा. हम अपने परिवार की सामूहिक संपत्ति को इस तरह से बेच नहीं सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : एअर इंडिया की ब्रिकी का टेंडर जारी, 100 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी सरकार

2018-19 में एयर इंडिया को को 8,556 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था

खबरों के अनुसार वित्तीय वर्ष 2018-19 में एयर इंडिया को 8,556 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था. अभी कंपनी पर 80,000 करोड़ रुपये का बकाया है. इसके अलावा उसका घाटा भी हजारों करोड़ रुपये का है. जान लें किसरकार विदेशी निवेश को आकर्षित करने के लिए हाल के दिनों में कई फैसले लिये हैं. घरेलू बाजार में एयर इंडिया का 12.7 फीसदी हिस्सा है. 2019 में 18.36 मिलियन पैसेंजर्स ने एयर इंडिया से उड़ान भरी थी.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इसे भी पढ़ें : Andhra Pradesh : जगन मंत्रिमंडल ने #Legislative_Council खत्म करने संबंधी प्रस्ताव पर लगायी मुहर, टीडीपी का विरोध

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like