JharkhandLead NewsRanchi

कृषि बिल पर चर्चा का भाजपा विधायकों ने किया विरोध, सदन स्थगित

♦सभी बीजेपी विधायकों ने काला ड्रेस पहन जताया विरोध

♦स्पीकर ने विधायकों से कहा- कार्यमंत्रणा में जब विषय आया था तब क्यों नहीं किया विरोध

♦वेल में जाकर कर रहे थे विरोध

♦रिपोर्टिंग टेबल थपथपा रहे थे और हाय-हाय के लगा रहे थे नारे

Ranchi : सोमवार को विधानसभा की दूसरी पाली में भाजपा विधायकों ने कृषि बिल पर चर्चा का विरोध किया. भाजपा विधायकों के विरोध के बाद सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गयी. कृषि बिल और मंहगाई पर सदन में  चर्चा के विरोध में भाजपा के विधायक दूसरी पाली में काले रंग के कपड़े पहन कर आये थे. स्पीकर की इजाजत के बाद भाकपा माले के विधायक विनोद कुमार सिंह जैसे ही कृषि बिल और मंहगाई पर बोलना शुरू किये वैसे ही भाजपा के विधायक वेल में जा पहुंचे. सारे विधायक नारेबाजी कर रहे थे. दरअसल विधायक प्रदीप यादव और विनोद सिंह की ओर से कार्यमंत्रणा समिति में तीन नये कृषि कानून और बढ़ती मंहगाई पर सदन में चर्चा कराने की सूचना दी गयी थी.

इसे भी पढ़ें – Jharkhand Budget Session : जब तक कंप्यूटर ऑपरेटरों की स्थायी बहाली नहीं होगी, नहीं हटाये जाएंगे टेंपररी ऑपरेटर

कहां है कृषि बिल, स्पीकर से पूछ रहे भाजपा विधायक

सदन में कृषि कानून और मंहगाई पर चर्चा के दौरान भाजपा विधायक सीपी सिंह ने कहा कि कार्य सूची में कृषि बिल पर चर्चा लिखा हुआ है, जबकि हमलोगों के पास कृषि बिल की कॉपी नहीं है. उन्होंने पूछा कि कहां है कृषि बिल? इसके बाद सभी भाजपा के विधायकों ने इस मुद्दे पर वेल में घुस कर लगातार नारेबाजी की.

इसे भी पढ़ें – कोरोना रिपोर्ट मिलने में हुई देर, सेना अभ्यर्थियों ने रांची सदर अस्पताल में किया हंगामा

आसन के धैर्य की परीक्षा न लें

हंगामा कर रहे भाजपा के विधायकों से स्पीकर रबिन्द्र नाथ महतो ने सहयोग मांगा. उन्होंने कहा कि आसन के धैर्य की परीक्षा न लें नहीं तो दिक्कत में पड़ जाइयेगा. ये सही बात नहीं है. कार्यमंत्रणा की बैठक में यह निर्णय हुआ था. वहां विरोध करना था.

रिपोर्टिंग चेयर पर बैठ गये विपक्ष के विधायक

सदन के अंदर नोटिंग करने के लिए बैठे विधानसभा पदाधिकारियों को उठा कर विपक्ष के विधायक रिपोर्ट्स चेयर पर बैठ गये. नोटिंग कर रहे पदाधिकारियों को भाजपा के विधायकों ने नोटिंग करने नहीं दी. सीपी सिंह, नीलकंठ सिंह मुंडा, अमर बाउरी, नवीन जायसवाल और रणधीर सिंह रिपोर्टर्स चेयर पर बैठे. स्पीकर के मना करने के बाद भी वे कुर्सी में जमे रहे और हंगामा करते रहे.

इसे भी पढ़ें – सार्वजनिक जगहों में सिगरेट पीने पर लगेगा 1 हजार रुपये जुर्माना, पांच गुना बढ़ा जुर्माना

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: