Lead NewsTOP SLIDERWest Bengal

बंगाल में BJP को लग सकता है एक और झटका, अब इस MP के TMC में जाने की अटकलें

टीएमसी महासचिव कुणाल घोष ने ट्वीट कर दिया संकेत

Kolkta : बंगाल में भाजपा की चुनावी हार के बाद एक और झटका लगता नजर आ रहा है. पूर्व   केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के बाद अब हुगली से बीजेपी सांसद लॉकेट चटर्जी के भी पार्टी छोड़ने की अटकलें तेज हो गई हैं. टीएमसी महासचिव कुणाल घोष ने दावा किया है कि लॉकेट चटर्जी ने भवानीपुर में बीजेपी के लिए प्रचार करने से इनकार कर दिया है. कुणाल घोष ने उन्हें धन्यवाद भी दिया. कुणाल घोष के ट्वीट के बाद से अटकलों का बाजार और गर्म हो गया है.

टीएमसी महासचिव कुणाल घोष ने किया ट्वीट

 


कुणाल घोष ने सोमवार को ट्वीट किया, ”भवानीपुर में चुनाव प्रचार नहीं करने के लिए स्टार प्रचारक लॉकेट चटर्जी को धन्यवाद और बधाई. भाजपा के कई बार अनुरोध करने के बाद भी आप नहीं गईं. एक मित्र के रूप में आप जहां भी हों, आपकी सफलता की कामना करते हैं. दुनिया बहुत छोटी है. आशा है कि वे दिन फिर से लौटेंगे जब आपने अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की थी.”

adv

वहीं, कुणाल घोष के ट्वीट पर लॉकेट चटर्जी ने लिखा, आपको यह सुनिश्चित करने पर ध्यान देना चाहिए कि ममता बनर्जी भवानीपुर से हारे नहीं.

इसे भी पढ़ें :इसे कहते हैं सियासत, सटीक टाइमिंग-जर्बदस्त ड्रामा, वाह मंत्रीजी वाह!

लॉकेट चटर्जी की नाराजगी की ये हैं वजह

कई कारणों से लॉकेट चटर्जी पार्टी में खुद को अलग-थलग महसूस कर रही हैं. वो बंगाल में बीजेपी महिला मोर्चा की प्रमुख थीं, लेकिन उनको हटाकर अग्निमित्रा पॉल को महिला मोर्चे की जिम्मेदारी दे दी गई. मोदी कैबिनेट के विस्तार में भी जगह नहीं मिलने के कारण लॉकेट नाराज हैं.

इसके साथ ही सांसद होने के बावजूद उन्हें विधानसभा चुनाव में उतारने के फैसले से लॉकेट खुश नहीं हैं. इस पूरे मामले पर अभी तक लॉकेट चटर्जी की प्रतिक्रिया नहीं आयी है. बता दें कि बीजेपी ने लॉकेट चटर्जी को हाल ही में उत्तराखंड चुनाव के लिए सह प्रभारी बनाया है.

इसे भी पढ़ें :जर्मनी में एजेंला मर्केल की पार्टी हारी, करीबी मुकाबले में SPD जीती, अब होगा गठबंधन का खेल

भवानीपुर उप चुनाव के लिए स्टार प्रचारकों में शामिल था नाम

बता दें कि भवानीपुर उप चुनाव के लिए बीजेपी ने जिन स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की थी. इस लिस्ट में स्मृति ईरानी, हरदीप पुरी, शहनवाज हुसैन, मनोज तिवारी, दिलीप घोष, शुभेंदु अधिकारी, राहुल सिन्हा, स्वपन दासगुप्ता, अनिर्बान गांगुली, बाबुल सुप्रियो, रूपा गांगुली, लॉकेट चटर्जी और दिनेश त्रिवेदी के नाम शामिल हैं.

जानकारी हो कि भवानीपुर में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी किस्मत आजमा रही हैं. विधानसभा चुनाव के दौरान ममता बनर्जी नंदीग्राम में बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी से हार गई थीं. पश्चिम बंगाल की भवानीपुर सीट पर हो रहे उपचुनाव से ममता बनर्जी को राज्य विधानसभा की सदस्य बने रहने का मौका मिलेगा. अगर उन्हें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बने रहना है तो उन्हें 5 नवंबर के भीतर किसी भी विधानसभा सीट से जीतना होगा.

इसे भी पढ़ें :IIM Ranchi : 10 सालों में नहीं मिली एक फूटी कौड़ी, अब 130 करोड़ का हिसाब मांग रही है सरकार

बंगाल में तीन सीटों पर हो रहा उपचुनाव

गौरतलब है कि ममता बनर्जी को वर्ष 2011 और 2016 के चुनावों में भवानीपुर से ही विजय मिली थी. वहीं अब तृणमूल कांग्रेस ने भवानीपुर, शमशेरगंज और जांगीपुर सीटों पर उपचुनाव के लिए अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है. ममता बनर्जी जहां भवानीपुर से लड़ेंगी, तो हीं जाकिर हुसैन जांगीपुर और अमिरुल इस्लाम शमशेरगंज से चुनाव लड़ेंगे.

चुनाव आयोग के अनुसार, राज्य में 30 सितंबर को उपचुनाव होगा और 3 अक्टूबर को वोटों की गिनती होगी. पश्चिम बंगाल की तीन विधानसभा सीटों के लिए 13 सितंबर तक नामांकन किया जाएगा. 16 सितंबर तक नाम वापसी होगी.

इसे भी पढ़ें :3500 शेयर्स खरीद भूल गया था ये शख्स, अब कीमत 1448 करोड़ हुई तो मामले में आया Twist

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: