Crime NewsJamshedpurJharkhandNEWS

Jamshedpur News: भाजपा नेता के भाइयों की काशीडीह में गुंडागर्दी, दस लाख रुपये नहीं देने पर क‍िया ये सलूक, थाने में श‍िकायत, अभय सि‍ंंहने कही ये बात

Jamshedpur : जमशेदपुर के काशीडीह में घर निर्माण करा रहे व्‍यक्‍ति‍ से भाजपा नेता अभय सिंह के भाई दिलीप और निर्भय सिंह द्वारा 10 लाख रुपये रंगदारी मांगने एवं वृद्धा के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है. इस संबंध में साकची थाने में ल‍िखि‍त श‍िकायत दर्ज करायी गई है.

पीड़िता 75 वर्षीय पार्वती देवी और उसके पुत्र चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि वे  काशीडीह लाइन नंबर 9, होल्डिंग नंबर 255 के न‍िवासी हैं. पुरखों से वे लोग वहां वास करते आए हैं. वे पुराने भवन की जगह नयी बिल्डिंग का निर्माण करा रहे हैं. मानगो के मोहम्मद शागिर को भवन न‍िर्माण का ठेका दिया गया है. जब भवन न‍िर्माण की जानकारी म‍िली तो निर्भय सिंह और दिलीप सिंह घर बनाने के एवज में 10 लाख रुपए की मांग करने लगे. रुपये नहीं देने पर मजदूरों के साथ मारपीट की जाती और उन्‍हें  भगा दिया जाता था. इस तरह भयादोहन करने पर ठेकेदार ने कुछ रुपये भी दि‍ए. लेकिन अब दोनों भाई चंद्रशेखर सिंह से एक फ्लैट या फिर 10 लाख रुपये की मांग करने लगे. इनकार करने पर बुधवार को निर्भय सिंह निर्माणस्थल पर पहुंचे और मजदूरों के साथ मारपीट कर उन्हें भगा दिया.

मना करने पर की मारपीट

Chanakya IAS
SIP abacus
Catalyst IAS


चंद्रशेखर सिंह की मां पार्वती देवी ने इस तरह की हरकत करने से मना किया तो निर्भय सिंह ने गाली -गलौज करते हुए मारपीट की. मारपीट का दृश्‍य सीसीटीवी में कैद हो गया. चंद्रशेखर ने बताया क‍ि इससे पूर्व साकची थाना में मामले की शिकायत की थी लेकिन किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं हुई. इसी का परिणाम है क‍ि वृद्धा के साथ मारपीट की गई. एक बार फ‍िर मामले की श‍िकायत साकची थाना में की गई और कार्रवाई करने की मांग की गई है.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali

अभय स‍िंंह ने कही ये बात
रंगदारी मांगने के मामले में भाजपा नेता अभय सिंह ने कहा कि ठेकेदार को साढ़े 10 लाख के ईंट, बालू एवं गिट्टी की सप्लाई की गई थी और एक फ्लैट भी बुक कराया गया था. बिल्डर ने मैटेर‍ियल के बदले पैसे नहीं चुकाए और फ्लैट भी जिनके नाम से बुक था उन्‍हें नहीं देकर अन्य किसी को दे दिया गया. उसी को लेकर कई दिनों से गृहस्वामी के माध्यम से बिल्डर से संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा था. आज फ्लैट में गेट और गोदाम बंद करने का प्रयास किया था. उसी को लेकर निर्भय सिंह वहां बात करने पहुंचे थे और बिल्डर की गतिविधि का विरोध कर रहे थे. गृहस्वामी ने 10 लाख रुपये रंगदारी मांगने का झूठा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि झूठा आरोप लगाने से कुछ नहीं हो सकता. उनके पास कागजी साक्ष्य मौजूद है.

Jamshedpur : बिष्टुपुर पुलिस ने झपट्टामार गिरोह के तीन सदस्यों को दबोचा, छह मोबाइल समेत एक सोने का चेन बरामद

Related Articles

Back to top button