National

#Maharashtra : #BJP नेता ने कहा, सात नवंबर तक सरकार नहीं बनी, तो लग सकता है #President’sRule

NewDelhi : महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल आठ नवंबर को समाप्त हो रहा है. लेकिन भाजपा- शिवसेना के बीच सीएम पद को लेकर जिच कायम है. इसी बीच वित्त मंत्री और भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने शुक्रवार को कहा कि अगर राज्य में सात नवंबर तक नयी सरकार का गठन नहीं होता है तो यहां राष्ट्रपति शासन लागू हो सकता है.

कहा कि सरकार गठन में मुख्य बाधा शिवसेना की ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग है. उनकी यह टिप्पणी तब आयी है , जब 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के आठ दिन बाद भी राज्य में सरकार गठन को लेकर कोई स्पष्ट स्थिति नहीं है.

जान लें कि  मुनगंटीवार ने एक टीवी चैनल से बातचीत के क्रम में कहा कि दीपावली के कारण भाजपा और शिवसेना के बीच बातचीत में देर हुई. एक या दो दिन में बातचीत शुरू होगी. उन्होंने कहा, महाराष्ट्र के लोगों ने केवल एक पार्टी को नहीं बल्कि महायुति (भाजपा, शिवसेना और अन्य दलों के गठबंधन) को जनादेश दिया है. कहा कि हमारा गठबंधन फेविकोल या अंबुजा सीमेंट से भी मजबूत है.

इसे भी पढ़ें : #Maharashtra: सरकार गठन की असमंजस के बीच शरद पवार से मिले संजय राउत, किंगमेकर की भूमिका में NCP

हमने पहले ही देवेंद्र फड़णवीस को नामित कर दिया है.

मुनगंटीवार ने विश्वास जताया कि महाराष्ट्र नयी सरकार का गठन जल्द हो जायेगा. उन्होंने कहा, निर्धारित समय के भीतर एक नयी सरकार बनानी होगी या राष्ट्रपति को हस्तक्षेप करना पड़ेगा. अगर समयसीमा के भीतर सरकार नहीं बनती है तो राष्ट्रपति शासन लागू होगा.

सरकार गठन में मुख्य बाधा शिवसेना की ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग है. यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा इस मांग को मानेगी, इस पर मुनगंटीवार ने कहा, हमने पहले ही देवेंद्र फड़णवीस को नामित कर दिया है.

गतिरोध की बात पर उन्होंने कहा, हम राज्य स्तर पर गतिरोध को तोड़ने के रास्ते तलाशने के लिए साथ बैठेंगे. अगर आवश्यक हुआ तो भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व हस्तक्षेप करेगा.’ उन्होंने कहा कि नयी सरकार के गठन पर गतिरोध दूर करने के लिए भाजपा बढ़त हासिल करेगी.  सरकार गठन पर शिवसेना नेता संजय राउत की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए मुनगंटीवार ने कहा, ‘भाजपा की तरह शिवसेना भी जल्द से जल्द सरकार गठन करना चाहती है.

adv

इसे भी पढ़ें : #Islamabad: : मौलाना फजलुर रहमान के नेतृत्व में इस्लामाबाद पहुंचे  प्रदर्शनकारी, इमरान से इस्तीफा मांगा 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button