न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Maharashtra : #BJP नेता ने कहा, सात नवंबर तक सरकार नहीं बनी, तो लग सकता है #President’sRule

21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के आठ दिन बाद भी राज्य में सरकार गठन को लेकर कोई स्पष्ट स्थिति नहीं है.

58

NewDelhi : महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल आठ नवंबर को समाप्त हो रहा है. लेकिन भाजपा- शिवसेना के बीच सीएम पद को लेकर जिच कायम है. इसी बीच वित्त मंत्री और भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने शुक्रवार को कहा कि अगर राज्य में सात नवंबर तक नयी सरकार का गठन नहीं होता है तो यहां राष्ट्रपति शासन लागू हो सकता है.

कहा कि सरकार गठन में मुख्य बाधा शिवसेना की ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग है. उनकी यह टिप्पणी तब आयी है , जब 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के आठ दिन बाद भी राज्य में सरकार गठन को लेकर कोई स्पष्ट स्थिति नहीं है.

Mayfair 2-1-2020

जान लें कि  मुनगंटीवार ने एक टीवी चैनल से बातचीत के क्रम में कहा कि दीपावली के कारण भाजपा और शिवसेना के बीच बातचीत में देर हुई. एक या दो दिन में बातचीत शुरू होगी. उन्होंने कहा, महाराष्ट्र के लोगों ने केवल एक पार्टी को नहीं बल्कि महायुति (भाजपा, शिवसेना और अन्य दलों के गठबंधन) को जनादेश दिया है. कहा कि हमारा गठबंधन फेविकोल या अंबुजा सीमेंट से भी मजबूत है.

इसे भी पढ़ें : #Maharashtra: सरकार गठन की असमंजस के बीच शरद पवार से मिले संजय राउत, किंगमेकर की भूमिका में NCP

हमने पहले ही देवेंद्र फड़णवीस को नामित कर दिया है.

मुनगंटीवार ने विश्वास जताया कि महाराष्ट्र नयी सरकार का गठन जल्द हो जायेगा. उन्होंने कहा, निर्धारित समय के भीतर एक नयी सरकार बनानी होगी या राष्ट्रपति को हस्तक्षेप करना पड़ेगा. अगर समयसीमा के भीतर सरकार नहीं बनती है तो राष्ट्रपति शासन लागू होगा.

Related Posts

#Nirbhaya_Gang_Rape : कोर्ट ने नया डेथ वारंट जारी किया,  दोषियों को एक फरवरी सुबह छह बजे फांसी दी जायेगी   

कोर्ट ने दोषियों का नया डेथ वॉरंट जारी किया है. हालांकि दोषियों के वकील मामले को और खींचने की फिराक में हैं. एक दोषी की उम्र को लेकर आपत्ति जताई जा रही है.

Vision House 17/01/2020

सरकार गठन में मुख्य बाधा शिवसेना की ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग है. यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा इस मांग को मानेगी, इस पर मुनगंटीवार ने कहा, हमने पहले ही देवेंद्र फड़णवीस को नामित कर दिया है.

गतिरोध की बात पर उन्होंने कहा, हम राज्य स्तर पर गतिरोध को तोड़ने के रास्ते तलाशने के लिए साथ बैठेंगे. अगर आवश्यक हुआ तो भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व हस्तक्षेप करेगा.’ उन्होंने कहा कि नयी सरकार के गठन पर गतिरोध दूर करने के लिए भाजपा बढ़त हासिल करेगी.  सरकार गठन पर शिवसेना नेता संजय राउत की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए मुनगंटीवार ने कहा, ‘भाजपा की तरह शिवसेना भी जल्द से जल्द सरकार गठन करना चाहती है.

इसे भी पढ़ें : #Islamabad: : मौलाना फजलुर रहमान के नेतृत्व में इस्लामाबाद पहुंचे  प्रदर्शनकारी, इमरान से इस्तीफा मांगा 

Ranchi Police 11/1/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like