Crime NewsLead NewsNationalTOP SLIDERTRENDING

भाजपा नेता की घर में घुसकर हत्या, केरल में 12 घंटे में दो राजनीतिक हत्याओं से सुलगी आग

जिला प्रशासन ने विधि व्यवस्था बनाये रखने के लिए अलाप्पुझा में धारा 144 लागू की

New Delhi : केरल में दो राजनीतिक हत्याओं से माहौल गरमा गया है. 12 घंटे के अंदर दो नेताओं की हत्या ने अलाप्पुझा जिले में तनाव पैदा कर दिया है. जिला प्रशासन ने विधि व्यवस्था तथा शांति बनाये रखने धारा 144 लागू कर दी है. केरल के सीएम ने इन राजनीतिक हत्याओं की निंदा की है.

जानकारी हो कि अलप्पुझा में रविवार सुबह भाजपा नेता की हत्या कर दी गई. मृतक की पहचान रंजीत श्रीनिवासन के रूप में हुई है जो भाजपा ओबीसी मोर्चा के सचिव थे. बताया जा रहा है कि सुबह-सुबह उनके घर में कुछ लोग घुसे और उनकी हत्या कर दी.

इससे पहले शनिवार देर रात सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के नेता केएस शान की हत्या हुई थी. पार्टी ने हत्या का आरोप आरएसएस पर लगाया था. माना जा रहा है कि एसडीपीआई नेता केएस शान के प्रतिशोध में भाजपा नेता की हत्या की गई है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें :प्रताड़ना की शिकार बहू ने सास पर लगाया गंभीर आरोप, कहा-ननदोसी को खुश नहीं करने की मिली सजा

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

सीएम बोले, हमला करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी

12 घंटे के अंदर दो नेताओं की हत्या के बाद कलेक्टर ने अलाप्पुझा में दो दिन के लिए धारा 144 लागू कर दी है. वहीं, केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने अलाप्पुझा में हुई दोनों नेताओं की हत्या की निंदा की. उन्होंने कहा कि पुलिस हमला करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी. सीएम ने कहा कि इस तरह की घटनाएं नहीं होनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें :JPSC परीक्षा विवादः AJSU Party ने की जेपीएससी अभ्यर्थी न्याय वीडियो कैंपेन की शुरुआत

SDPI नेता के शरीर पर मिले थे 40 चोट के निशान

केरल में सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया के सचिव केएस शान पर हमले के बाद उन्हें अलाप्पुझा के अस्पताल में भर्ती कराया गया. इसके बाद उन्हें कोच्चि रेफर किया गया जहां उनकी मौत हो गई. कथित तौर पर अज्ञात गिरोह के लोगों ने केएस शान पर हमला कर दिया था जिसके बाद उनकी मौत हो गई. उधर, एसडीपीआई नेता की हत्या के बाद पार्टी अध्यक्ष एमके फैजी ने मामले में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) का हाथ होने का आरोप लगाया.

केएस शान पर उस वक्त हमला हुआ था जब वे बाइक से घर जा रहे थे. इसी दौरान एक कार ने उन्हें टक्कर मार दी. इसके बाद केएस शान सड़क पर गिर गए. फिर कार सवार बदमाशों ने उनकी हत्या कर दी.

बताया जा रहा है कि हमले के बाद कुछ लोगों ने उन्हें सरकारी मेडिकल कॉलेज पहुंचा जहां कुछ घंटे इलाज के बाद उन्होंने दम तोड़ दिया. उनके शरीर पर 40 से अधिक चोट के निशान थे. इस घटना के बाद रविवार सुबह बीजेपी से जुड़े एक नेता की हत्या हो गई.

इन दोनों घटनाओं ने राज्य की सियासत को भी सुलगा दिया है. सीएम ने भी इस मामले का संज्ञान लिया है.

इसे भी पढ़ें :कांटाटोली फ्लाईओवर : 1.43 एकड़ जमीन का होगा अधिग्रहण, जनसुनवाई 28 को

Related Articles

Back to top button