JharkhandLead NewsRanchi

बाबूलाल को भाजपा बना रही है मजाक का पात्र, फैला रही भ्रमः झामुमो

Ranchi : झामुमो ने बाबूलाल मरांडी पर सोमवार को राजनीतिक हमला बोला. प्रेस क़ॉन्फ्रेंस में केंद्रीय प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि 29 अगस्त को पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी ने तथाकथित तौर पर हजारीबाग, बोकारो के कुछ झामुमो कार्यकर्ताओं को भाजपा की सदस्यता दिलायी. इस दौरान मीडिया के सामने कहा कि झामुमो के पार्टी कार्यकर्ता अपनी ही पार्टी से निराश हैं. वास्तव में इनमें से एक भी लोग झामुमो से नहीं हैं.

पार्टी की गिरिडीह, हजारीबाग और बोकारो जिला समिति ने जानकारी दी है कि भाजपा ज्वाइन करनेवाला एक भी नेता झामुमो से जुड़ा हुआ नहीं है. प्रदेश भाजपा बाबूलाल का मजाक बनाने पर तुली है.

advt

पहले बाबूलाल को गंभीर राजनेता समझा जाता था. पर लगातार फ्रस्ट्रेशन में आकर वे असामान्य व्यक्ति की तरह बात कर रहे हैं. जिसका मानसिक संतुलन बिगड़ जाये, वही इस तरह की बातें कर सकता है. झामुमो के कार्यकर्ताओं को कोई गुमराह नहीं कर सकता. वे भाजपा के भ्रम में नहीं आनेवाले.

इसे भी पढ़ें :हरियाणा के एक और छोरे का पैरालिंपिक में कमाल, सुमित ने जैवलिन थ्रो में जीता गोल्ड

बढ़ी मॉब लिंचिंग की घटनाएं

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि भाजपा असल मुद्दों के बजाय भ्रांतियां फैलाने में लगी रहती है. देश में पिछले 10 माह से किसान आंदोलन चल रहा है. पर भाजपा शासित राज्यों में पुलिस को किसानों का डंडा से सर फोड़ने को कहा जाता है. मध्य प्रदेश में एक विशेष धर्म समुदाय पर भोपाल से लेकर उज्जैन तक, इंदौर से जबलपुर तक रोजाना मॉब लिंचिंग हो रही है.

यूपी की स्थिति भयावह है. रघुवर सरकार में राज्य में 1000 से अधिक मॉब लिंचिंग की घटनाएं हुईं. पर अब राज्य में सरकार ऐसी घटनाओं को रोकने के प्रति गंभीर है.

इसे भी पढ़ें :तालिबान का फरमान, को-एड एजुकेशन पर लगाया बैन, छात्राओं को नहीं पढ़ा सकेंगे जेंटस टीचर

कंपनियों की होगी मदद

राज्य में जिन कंपनियों के सामने बंद होने का खतरा है, अगर वे सरकार के पास नयी इन्वेस्टर नीति के तहत लाभ लेने के लिए आवेदन करेंगी तो उनकी मदद की जायेगी. जब कोई कंपनी कहीं काम करती है तो स्थानीय सरकार के साथ कुछ शर्तें तय होती हैं. उनका पालन जरूरी होता है.

ऐसे में जो इसमें फेल होते हैं, उनके सामने चुनौती आती है. अब राज्य में उद्योग हवा में नहीं लगेगा. हैंगिग इंडस्ट्री नहीं होगी. बगैर किसी को विस्थापित किये सरकार राज्य में नये निवेशकों को आदर्श माहौल देगी.

इसे भी पढ़ें :कोरोना के डेल्टा वेरिएंट के कहर से अमेरिका में हालात बदतर, ऑक्सीजन की भी भारी कमी

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: