न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भाजपा गुंडों के बल पर कर रही है दंगों की राजनीति : बाबूलाल

हल्ला बोल कार्यक्रम में झाविमो सुप्रीमो ने केंद्र व राज्य सरकार पर बोला हमला

90

Chatra : झूठ और फरेब के आधार पर सत्ता पर काबिज केंद्र व राज्य सरकार अब दंगों की राजनीति करने में जुटी है. हांथ से सत्ता फिसलता देख अब भाजपा के गुंडे लोगों के धार्मिक भावना को टारगेट करने में जुटे हैं. ये लोग मंदिर, मस्जिद और गुरुद्वारा समेत अन्य धार्मिक स्थलों में प्रतिबंधित चीजों को फेंकवाकर पुनः सत्ता हासिल करने की जुगाड़ में लगे हैं. उक्त बातें जेवीएम के हल्ला बोल कार्यक्रम में चतरा पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री सह झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा.

समय आ गया है भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने का

उन्होंने कहा कि वर्तमान में केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार है. ये सरकारें कानून और संविधान को चुनौती पेश करने वाली सरकार है. झाविमो सुप्रीमो ने कहा कि भाजपा अपने हिसाब से कानून और संविधान का इस्तेमाल करना चाहती है. इनका बस चले तो कानून और संविधान को ही बंद कर दें. घोर नक्सल प्रभावित लावालौंग में स्थित पार्टी कार्यक्रम में बाबूलाल ने कहा कि समय आ गया है कि अब आमलोगों के भावनाओं का सौदा करने वाली भाजपा की सरकार को मिलकर उखाड़ फेंके.

बाबूलाल ने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी ने सत्ता मिलने पर लोगों को महंगाई कम करने का सपना दिखाया था. लेकिन महंगाई को डायन का उपाधि देने वाली यह सरकार आज इसके अतिथि का दर्जा देने पर तुली है. उन्होंने कहा कि सरकार के विफलता के कारण ही आज पेट्रोल, डीजल, केरोसिन और गैस की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हुई है. केंद्र व राज्य सरकार गरीबों का पैसा लूटकर कारपोरेट घरानों को मदद पहुंचाने में जुटी है.

Related Posts

100 रुपये में #IAS बनाता है #UPSC, #Jharkhand में क्लर्क बनाने के लिए वसूले जा रहे एक हजार

झारखंड में बनना है क्लर्क तो आइएएस की परीक्षा से 10 गुणा ज्यादा देनी होगी परीक्षा फीस.

इसे भी पढ़ें-देखें वीडियो : कैसे मामा ने भरी गोली और भांजे ने किया फायर, धनबाद एसएसपी ने कहा होगी कार्रवाई

लोकतंत्र को चुनौती देकर खरीदे गये विधायक

जेवीएम सुप्रीमों ने कहा कि सरकार ने आंतरिक सुरक्षा का भी सौदा करने में परहेज नहीं किया. देश की सबसे बड़ी राफेल खरीद में भी सरकार ने घोटाला किया है. निर्धारित एजेंसी के बजाय मोदी सरकार ने अंबानी की कंपनी को खरीद का टेंडर नियमविरुद्ध दे दिया. उन्होंने एक बार फिर सरकार पर लोकतंत्र को चुनौती देते हुए विधायकों की खरीद फरोख्त का गंभीर आरोप लगाया है. कहा है कि सरकार ने गलत परंपरा की शुरुआत की है. दूसरे पार्टियों के विधायकों को खरीदने वाली भाजपा सरकार को जनता सबक सिखाएगी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: