न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भाजपा सरकार में बढ़ा है आदिवासियों व दलितों का शोषण: हेमंत सोरेन

झामुमो ने मधुबन में रैली कर दिखाई अपनी ताकत

88

Giridih: पारसनाथ इलाके के आदिवासी मजदूरों के बीच झामुमो ने एक बार फिर से अपनी परंपरागत पैठ को मजबूत करना शुरू कर दिया है. गिरिडीह के प्रसिद्ध जैन तीर्थस्थल मधुबन के हटिया मैदान में गुरुवार को झामुमो ने रैली और आमसभा का आयोजन किया. इसके जरिये एक तरह से आगामी लोकसभा चुनाव में गिरिडीह में अपनी पकड़ को प्रदर्शित करते हुए अपने इरादे भी स्पष्ट कर दिये.

इसे भी पढ़ें: JPSC: एक पेपर जांचने के लिए चाहिए 60 से अधिक टीचर, मेंस एग्जाम की कॉपी चेक करना बड़ी चुनौती

गरीब विरोधी है भाजपा सरकार

hosp3

रैली को संबोधित करते हुए झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि देश और राज्य में भाजपा की गरीब विरोधी सरकार का शासन चल रहा है. इस सरकार में आदिवासियों, अल्पसंख्यकों व दलितों का हर स्तर पर दमन किया जा रहा है. गरीबी व अमीरी के बीच की खाई दिन ब दिन बढ़ती जा रही है. गरीबों का आक्रोश इस सरकार के प्रति बढ़ता जा रहा है. हेमंत ने कहा कि गरीबों का आक्रोश जब बढ़ता है तो पूंजीपतियों के घर ढह जाते हैं. भाजपा सरकार के पतन का भी समय आ चुका है.

इसे भी पढ़ें: राजधानी में 30 PCR, 15 हाइवे पेट्रोलिंग टीम, 100 टाइगर मोबाइल और 40 शक्ति कमांडो मिलकर भी नहीं रोक पा रहे आपराधिक घटनाएं

मधुबन में मजदूरों का हो रहा है शोषण

हेमंत ने कहा कि उन्हें पारसनाथ में रोजी-रोटी कमा रहे गरीब आदिवासी मजदूरों के अन्याय की खबरें लगातार मिलती रहती हैं. सरकार और प्रशासन को स्थानीय आदिवासियों के हितों का संरक्षण करने का हर संभव प्रयास करना चाहियए. मजदूरों की समस्या गंभीर है. प्रशासन को संवेदनशीलता के साथ इसका तत्काल समाधान निकालना चाहिए.

इसे भी पढ़ें: बीसीसीएल, सीआईएसएफ, सीबीआई, पुलिस, ट्रेड यूनियन नेता और कोयला अधिकारी एक ही थैली के चट्टे-बट्टे

शहीद अजय टुडू को दी श्रद्धांजलि

मधुबन की सभा के बाद हेमंत सोरेन ने पीरटांड़ के सिदो-कान्हू स्कूल परिसर में आयोजित शहादत दिवस कार्यक्रम में शहीद अजय टुडू को उनकी 10वीं बरसी पर श्रद्धांजलि अर्पित की. इस अवसर पर बोलते हुए हेमंत ने कहा कि अजय टुडू ने गरीबों के हक की लड़ाई में अपनी जान कुर्बान कर दी. पार्टी उनकी शहादत को जाया नहीं होने देगी.

इसे भी पढ़ें: राज्य प्रशासनिक सेवा के 420 पोस्ट खाली, 25 अफसरों पर गंभीर आरोप, 07 सस्पेंड, 06 पर डिपार्टमेंटल प्रोसिडिंग, 05 पर दंड अधिरोपण

कई दिग्गज नेता हुए शामिल

झामुमो द्वारा मधुबन में आयोजित रैली को झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष व पूर्व सीएम हेमंत सोरेन के अलावे पूर्व मंत्री हाजी हुसैन अंसारी, डुमरी विधायक जगन्नाथ महतो, मांडु विधायक जयप्रकाश भाई पटेल, मथुरा प्रसाद महतो, सुदिव्य कुमार सोनू, जिलाध्यक्ष संजय सिंह, पूर्व नप अध्यक्ष दिनेश यादव ने भी संबोधित किया. इस रैली में पार्टी के कई नेता और सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल हुए.

आदिवासी वोट बैंक सहजने की कवायद

गिरिडीह विधानसभा के पीरटांड़ क्षेत्र में आदिवासी वोट का खासा महत्व है. इसके प्रभाव से गिरिडीह सीट पर जीत-हार तय होती रही है. लोकसभा के लिए भी यह महत्वपूर्ण इलाका है. इसलिए सभी दल चुनाव के वक्त इस इलाके में काफी सक्रिय हो जाते हैं. हाल के दिनों में पारसनाथ पर्वत पर हजारों डोली मजदूरों की समस्या और स्थानीय संस्थानों द्वारा श्रमिकों के शोषण के मुद्दे पर झारखंड विकास मोर्चा ने स्थानीय मजदूरों का गोलबंद किया था. कुछ दिन इससे झामुमो रेस हो गई और परांपरागत वोट बैंक को बचाने के लिए बैठकों का सिलसिला चालू कर दिया. गुरुवार की रैली इसी कड़ी में एक विस्तृत प्रयास है. हालांकि झामुमो पार्टी ने लगातार मधुबन में मजदूरों के बीच अपनी सक्रियता बनाये रखी है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: