न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भाजपा ने चुनाव आयोग को दिया भरोसा, नमो टीवी पर नहीं दिखायेंगे गैर-प्रमाणित कंटेंट  

सीईओ ने गुरुवार को कहा था कि नमो टीवी भाजपा चला रही है, ऐसे में प्रसारित किए जाने वाले सभी रिकॉर्डेड कार्यक्रमों को मीडिया प्रमाणन और दिल्ली के निगरानी समिति द्वारा पूर्व प्रमाणित किया जाना चाहिए

62

NewDelhi  : भाजपा ने नमो टीवी चैनल के खिलाफ शिकायत मिलने पर चुनाव आयोग की कार्रवाई के बाद अपना जवाब दे दिया है. भाजपा ने भरोसा दिया है कि आगे से चैनल पर गैर-प्रमाणित कंटेंट नहीं दिखाया जायेगा. बता दें कि नमो टीवी पर दिखाये जाने वाले सभी रिकॉर्डेड कार्यक्रमों को बिना प्रमाणन नहीं दिखाये जाने के चुनाव आयोग के निर्देश के एक दिन बाद दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) ने उसकी मंजूरी के बिना भाजपा को इस चैनल पर कोई कार्यक्रम नहीं प्रसारित करने का निर्देश दिया था. सीईओ ने गुरुवार को कहा था कि नमो टीवी भाजपा चला रही है, ऐसे में प्रसारित किए जाने वाले सभी रिकॉर्डेड कार्यक्रमों को मीडिया प्रमाणन और दिल्ली के निगरानी समिति द्वारा पूर्व प्रमाणित किया जाना चाहिए और पूर्व-प्रमाणन के बिना प्रदर्शित सभी राजनीतिक प्रचार सामग्री को तुरंत हटा दिया जाना चाहिए.

चुनाव आयोग के दिशा-निर्देश के बाद दिल्ली के सीईओ ने भाजपा को पत्र लिखकर बिना मंजूरी वाली सभी राजनीतिक सामग्री हटाने को कहा था. इस क्रम में अधिकारियों ने बताया कि एहतियातन दो अधिकारियों को नमो टीवी देखने और इसकी सामग्री की निगरानी के लिए तैनात किया गया है.

इसे भी पढ़ेंः द्रमुक-कांग्रेस गठजोड़ पर पीएम का निशाना, मोदी को हराने सभी भ्रष्ट एकजुट हो गये हैं

नरेंद्र मोदी की सभी रैलियेां का सीधा प्रसारण नमो टीवी पर

Related Posts

पीड़िता छात्रा कोर्ट पहुंची, बयान दर्ज होने के बाद  पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद हो सकते हैं गिरफ्तार

छात्रा के बयान के बाद अदालत एसआईटी को इस मामले में दुष्कर्म की धारा जोड़ने का निर्देश दे सकती है. दुष्कर्म की धारा जोड़ने के तुरंत बाद चिन्मयानंद गिरफ्तार हो सकते हैं.

जान लें कि चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जितनी भी रैलियां चल रही थीं उनका सीधा प्रसारण नमो टीवी पर हो रहा था. यह प्रसारण बिना किसी ब्रेक और बिना किसी अन्य प्रकार के रुकावट के किया जा रहा था. साथ ही पीएम मोदी के रिकॉर्डेड इंटरव्यू और पुरानी रैलियों को भी दिखाया जा रहा था. इसके बाद कांग्रेस ने चुनाव आयोग के सामने चैनल के बारे में एक शिकायत दायर की. संज्ञान लेते हुए आयोग ने दिल्ली के सीईओ को इस मामले में एक रिपोर्ट दायर करने को कहा था.

विपक्षी दलों की ओर से शिकायत के बाद यह विवाद का बड़ा मुद्दा बन गया था. लेकिन चुनाव आयोग आयोग ने निर्देश जारी कर नमो टीवी से सभी सामग्री को तुरंत प्रभाव से हटाने का निर्देश दिये.   साथ ही आयोग ने निर्देश दिया है कि बिना कमेटी की मंजूरी के नमो टीवी पर कोई कंटेंट नहीं जाने दिया जाये और बिना इजाजत नमो टीवी पर डाले गये सभी कंटेंट हटाये जायें.

इसे भी पढ़ेंः राफेल डील के बाद फ्रांस सरकार ने अनिल अंबानी के 1200 करोड़ माफ किये  : फ्रेंच अखबार Le Monde

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: