Bihar

 BJP महासचिव बोले- ‘जीत की क्षमता’ देख बिहार में NDA के घटक दलों में होगा सीटों का बंटवारा

विज्ञापन

New Delhi: भाजपा महासचिव और बिहार के प्रभारी भूपेंद्र यादव का कहना है कि राज्य विधानसभा के आगामी चुनाव में ‘‘विनेबिलिटी’’ यानी जीत की क्षमता के आधार पर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के घटक दलों के बीच सीटों का ‘‘सम्मानजनक’’ बंटवारा होगा.

उन्होंने स्पष्ट किया कि बिहार में गठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री का चेहरा नीतीश कुमार ही होंगे और केंद्र में भाजपा की नीतियों और बिहार में राजग सरकार की उपलब्धियों के आधार पर यह गठबंधन मजबूती के साथ चुनाव मैदान में उतरेगा.

इसे भी पढ़ें- कानपुर अपहरण-मर्डर केस: IPS अपर्णा गुप्ता समेत 4 पुलिस अफसर सस्पेंड

advt

यादव ने तेजस्वी पर बोला हमला

यादव ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव पर भी करारा हमला किया और कहा कि बिहार विधानसभा का चुनाव ‘‘भारत निर्माण’’ की लड़ाई  है ना कि ‘‘किसी परिवार’’ को सत्ता और सिंहासन पर पहुंचाने की.

राजग के घटक दलों के बीच सीटों के बंटवारे के फार्मूले के सवाल पर भाजपा महासचिव ने कहा कि तीनों दलों में आपस में बातचीत चल रही है. सम्मानपूर्वक तरीके से गठबंधन में ‘विनेबिलिटी’ को देखते हुए हम सीटों को आपस में वितरित करेंगे और सही समय पर इसका निर्णय हो जाएगा.

यादव पिछले दिनों बिहार दौरे पर थे. इस दौरान उन्होंने संगठन स्तर पर कई बैठकें की और साथ ही गठबंधन के वरिष्ठ नेताओं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लोजपा नेता चिराग पासवान से भी अलग-अलग चर्चा की. उन्होंने कहा कि भाजपा, जदयू और लोजपा का गठबंधन मजबूती के साथ बिहार के चुनाव में उतरेगा. केंद्र में भाजपा की नीतियों और बिहार में गठबंधन सरकार की उपलब्धियों के आधार पर हम चुनाव लड़ेंगे.

इसे भी पढ़ें- लॉकडाउन से पहले रईसजादों की हाईप्रोफाइल पार्टी, पकड़ी गईं कई लड़कियां, डीजे में छुपा रखी थी शराब

adv

बिहार में मुख्यमंत्री का चेहरा नीतीश कुमार: यादव

यादव ने कहा कि मैंने सभी जिलों में स्पष्टता के साथ कार्यकर्ताओं से बातचीत की और पार्टी में एक स्पष्ट निर्णय है कि वह गठबंधन में चुनाव लड़ेगी. बिहार में मुख्यमंत्री का चेहरा नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी हैं. राज्य में कोरोना संकट, बाढ़ की स्थिति के अलावा भ्रष्टाचार और अपराध जैसे मुद्दों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ‘‘सुशासन बाबू’’ की छवि पर उठ रहे सवालों को उन्होंने विपक्षी दलों का ‘‘राजनीतिक स्वार्थ’’ बताया.

उन्होंने कहा जहां तक कोरोना और बाढ़ का सवाल है, बिहार की सरकार पूरी ‘‘सजगता’’ के साथ इनका मुकाबला कर रही है और स्थिति को नियंत्रण में करने का प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा, ‘‘बिहार की भौगोलिक स्थिति के कारण हर वर्ष बाढ़ आती है. उसका भी निपटारा किया जा रहा है. लेकिन मुझे लगता है कि सजगता के साथ एक सुशासन देकर हम स्थिति का पुरजोर तरीके से मुकाबला कर रहे हैं.

यादव ने कहा कि बिहार में राजग के शासनकाल में 10 फीसद की आर्थिक विकास दर को हासिल किया, बिजली, पानी और सड़क जैसी मूलभूत समस्याओं को पूरा किया है और लड़कियों की शिक्षा व शराबबंदी जैसे विषय पर बिहार में अभूतपूर्व सामाजिक कदम उठाए गए हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में जनसहभागिता के आधार पर हमने सुशासन को स्थापित किया है. विपक्ष के पास कुछ कहने लायक मुद्दे नहीं हैं. इसलिए उनके आरोप केवल राजनीतिक आरोप हैं. जनता इस बात को अच्छी तरह समझती है.

उल्लेखनीय है कि बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव कोरोना संक्रमण, बाढ़, भ्रष्टाचार और अपराध जैसे मुद्दों पर बिहार सरकार के सुशासन के दावों को लेकर हमलावर हैं और लगातार सवाल उठा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- Dhanbad: कोरोना को मात देकर घर लौटे 22 लोग, प्रशासन की सलाह- अभी क्वारंटाइन रहें

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button