JharkhandLead NewsRanchi

BJP ने मॉब लिंचिंग पर जतायी चिंता, कहा- न्यायिक जांच कराये सरकार

Ranchi : प्रदेश भाजपा ने राजधानी रांची में 8 मार्च को हुई मॉब लिंचिंग की घटना पर चिंता जतायी है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने लिंचिंग में मारे गये एक युवक की हत्या मामले में हेमंत सरकार को कटघरे में खड़ा किया है.

उन्होंने कहा कि इस सरकार में कानून व्यवस्था चौपट हो चुकी है. सरेआम घटनाएं हो रही हैं. सरकार से लेकर प्रशासन तक ने मौन धारण कर रखा है. लोग डर के साये में जी रहे हैं. जल्द से जल्द इस मामले की न्यायिक जांच की जाये.

इसे भी पढ़ें : हजारीबाग सेंट्रल जेल के डिटेंशन सेंटर से दो विदेशी नागरिक फिल्मी अंदाज में फरार

प्रशासनिक विफलता का नतीजा है लिंचिंग

दीपक प्रकाश के मुताबिक प्रशासन की निष्क्रियता के कारण लोग बेधड़क कानून को हाथ में ले रहे हैं. रांची के सघन आबादीवाले इलाके में 40 से 50 लोगों द्वारा युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी. यह शुद्ध रूप से प्रशासनिक विफलता है.

साथ ही राज्य में अपराधियों के बढ़ते मनोबल का परिणाम है. सीएम आवास से कुछ दूरी पर इस तरह की घटना का होना गलत संदेश देता है. इससे सुदूरवर्ती इलाकों में कानून व्यवस्था की स्थिति का पता चलता है.

यह पहली घटना है जब रांची में किसी युवक की इस तरह पीट-पीट कर हत्या की गयी है. पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी. युवक के परिजनों की मानें तो पुलिस ने भी कस्टडी में लेकर पिटाई की. यह कस्टोडियन डेथ के समान है.

अपराधियों का मनोबल हेमंत सरकार में सातवें आसमान पर है. राज्य में महिलाओं के साथ दुष्कर्म के मामले, हत्या, डायन बिसाही, उग्रवादी घटनाएं, लूट, डकैती के आंकड़े डरावने हैं.

इसे भी पढ़ें : एमएसपी पर धान खरीदी का लक्ष्य 10 लाख क्विंटल बढ़ा, सात जिलों से खरीदारी कम

परिवार को मिले मुआवजा

गौरतलब है कि चोरी के आरोप में रांची के अपर बाजार में 8 मार्च को 40-50 लोगों द्वारा सचिन वर्मा नामक युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी थी. युवक घर का इकलौता कमानेवाला सदस्य था.

प्रदेश भाजपा ने परिवार को उचित मुआवजा व दोषियों को कड़ी सजा दिलाने की मांग की है. फिलहाल इस मामले में एसएसपी ने मामले की जांच सिटी एसपी को करने को कहा है.

इसे भी पढ़ें : सरकारी नौकरी : उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन के 292 पोस्ट के लिए करें आवेदन

Related Articles

Back to top button