JharkhandLead NewsRanchi

JPSC के मुद्दे पर भाजपा-कांग्रेस में रार, कांग्रेस का हाथ भ्रष्टाचारियों के साथ : बीजेपी

Ranchi : जेपीएससी मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश कांग्रेस पर हमला बोला है. पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने बुधवार को प्रेस वार्ता में कहा कि जेपीएससी परीक्षा में बड़ा घोटाला हुआ है. इसे छुपाने के लिए कांग्रेस बेबुनियाद आरोप लगा रही है. भ्रष्टाचार और जेपीएससी पर सवाल से कांग्रेस बौखलायी हुई है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश पर इस पार्टी की ओर से लगाया गया आरोप उसकी विकृत मानसिकता को दर्शाता है.

कांग्रेस द्वारा लगाया गया आरोप दुर्भावना से प्रेरित और तथ्यहीन है. प्रेस वार्ता में प्रदेश मीडिया सह प्रभारी अशोक बड़ाइक और रंजीत चन्द्रवंशी भी उपस्थित थे.

advt

इसे भी पढ़ें:झारखंड : कोरोना काल में जान गंवाने वालों के लिये प्रदेश कांग्रेस ने केंद्र से मांगा 4 लाख का मुआवजा

अमिताभ चौधरी का दागदार रिकॉर्ड

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि वास्तविकता यह है कि जेएससीए के अध्यक्ष अमिताभ चौधरी पर क्रिकेट एसोसिएशन के बिल्डिंग निर्माण में 196 करोड़ रुपये के घोटाले का आरोप लगा था. इस पर प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश मुखर हुए थे. इसके बाद अध्यक्ष को जेएससीए संगठन में जगह नहीं दी गयी थी.

प्रतुल ने कहा कि भाजपा जानना चाहती है कि क्या कांग्रेस बेरहमी से पिटाई की गई छात्रों के खिलाफ है? क्या कांग्रेस जेपीएससी के अध्यक्ष के बचाव में है? क्या यह पार्टी भ्रष्टाचार का बढ़ावा देने में लगी है.

इसे भी पढ़ें:15 दिसंबर से नहीं शुरू होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, कोरोना के नये वेरिएंट को लेकर अलर्ट

पार्टी अगर जेपीएससी के मनमाने रवैए और उसके घोटाले के साथ है तो इसे क्लियर करे. जेपीएससी को छात्रों के सवाल का जबाव देना चाहिए था.

एक ही कमरे के छात्रों का जेपीएससी परीक्षा (पीटी) में पास होना सहित कई सवाल अनसुलझे हैं. कम मार्क्स वाले का पास होना और ज्यादा वाले का फेल होना भी सामान्य बात नहीं. कट ऑफ मार्क्स जारी करने में विलंब हुआ.

इसे भी पढ़ें:JSSC संशोधित नियमावली: हाइकोर्ट की मौखिक टिप्पणी- हिंदी और अंग्रेजी को पेपर टू से हटाने का क्या औचित्य?

परीक्षा के दिन ही कट ऑफ मार्क्स जारी करने के बजाए रोक लगाना बताता है कि कमरे के अंदर भ्रष्टाचार हुआ. सेंटर के चयन पर भी प्रतुल ने सवाल उठाया. हुए कहा कि सीसीटीवी फुटेज जारी करने से जेपीएससी बच रही है.

कांग्रेस ही सीसीटीवी फुटेज जारी करवा दे. और भी कई ऐसे सेंटर हैं जहां एक ही कमरे से 60 से 70 फीसदी रिजल्ट हुआ है. लाखों छात्रों के भविष्य को लेकर भाजपा सवाल उठाते रही है और आगे भी ऐसा करती रहेगी.

इसे भी पढ़ें:18 दिसंबर को झामुमो का केंद्रीय अधिवेशन: तैयारियों को अंतिम रूप देने में लगी पार्टी

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: