न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जैव विविधिता पर ही सभी जीवों का निर्भर है जीवन चक्र : अशोक

बहादूरपुर में जैव विविधता पर हुआ एक दिवसीय प्रशिक्षण

77

Bokaro : झारखंड जैव विविधता पर्षद रांची के सहयोग से सहयोगिणी संस्था बोकारो के द्वारा बहादूरपुर में बुधवार को जैव विविधता प्रबंधन समितियों का एक दिवसीय क्षमतावर्द्धन कार्यक्रम का आयोजन किया गया. प्रशिक्षण में झारखंड जैवविविधता पर्षद के सदस्य सचिव अशोक कुमार सिंह, बोकारो जिला बीस सूत्री उपाध्यक्ष लक्ष्मण कुमार नायक, प्रमुख विजय किशोर गौतम, जिप सदस्य सह केंद्रीय वन पर्यावरण सुरक्षा समिति के अध्यक्ष जगदीश महतो और पोंडा मुखिया सुमित्रा देवी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया.

पूरी दुनिया में विकास की मची है होड़

पर्षद के सदस्य सचिव अशोक सिंह ने कहा कि जैवविविधता का सरंक्षण और सुरक्षा सभी की जिम्मेवारी है. जैवविविधता धरती का ऐसा भंडार है, जहां से मनुष्य और समस्त जीवों के आवश्यकताओं की पूर्ति होती है. जैव विविधिता पर ही सभी जीवों का जीवन चक्र निर्भर करता है. वर्तमान समय में जब पूरी दुनिया में विकास की होड़ मची है. इस परिप्रेक्ष्य में जैवविविधता को बचाना और भी जरूरी हो गया है. उन्होंने बताया कि इसके लिए पूरे झारखंड में सभी जिले, सभी प्रखंडों से लेकर सभी पंचायतों में कमेटी का गठन किया जा रहा है. जिसके माध्यम से जैवविविधता को सरंक्षित स्थानीय ईकाइओं के द्वारा किया जायेगा.

समस्त जीव जंतुओं का सरंक्षण जरूरी

बीस सूत्री उपाध्यक्ष नायक ने कहा कि सभी लोगों को मिलकर जैवविविधता को बचाने का संकल्प लेना होगा. तभी धरती पर जीवन बच सकेगा. जिप सदस्य महतो ने कहा कि जल, जंगल, जमीन और जीवों को बचाने की जिम्मवारी समाज के लोगों पर है. इसके लिए सामूहिक प्रयास करना होगा. साझी संस्कृति और साझी विरासत की बात पूरे देश और दुनिया में हो रही है. उससे भी सभी को सीख लेने की जरूरत है.

प्रमुख गौतम ने कहा कि जैवविविधता से सिर्फ मानव जीवन ही नहीं, बल्कि समस्त जीव जंतुओं, कीड़े, मकौडों से लेकर पेड़,पौधों का सरंक्षण जरूरी है. इससे मानव जीवन का विकास निर्भर है. प्रशिक्षण के दौरान सभी समिति सदस्यों को जैवविविधता के महत्व से लेकर जैवविविधता अधिनियम, नियामावली, समितियों के गठन की आवश्यकता कर्तव्य व उनके कार्यों की विस्तार पूर्वक जानकारी प्रोजेक्टर के माध्यम से पर्षद के मनीष कुमार ने दी. कार्यक्रम का संचालन सहयोगिणी के निदेशक गौतम सागर ने किया.

कार्यक्रम में ये लोग थे मौजूद

मौके पर महेंद्र सिंह, उपेंद्र करमाली, सुनील कुमार, विवेकानंद, हारु रजवार, रामसय हासंदा, कमलेश जायसवाल, गौतम कुमार लहेरी, बलदेव रजवार, देवेंद्र नाथ हेम्ब्रम, प्रवीण कुमार, जगरनाथ नायक, मिन्हाज अंसारी, उस्मान अंसारी, बजरंगी प्रजापति, परमेश्वर घांसी, अंबावती देवी, मंजू देवी, सुलोचना देवी  के अलावे कसमार प्रखंड के पांच पंचायत पोंडा, सोनपूरा, दांतू, गर्री और मंजूरा पंचायत के जैवविविधता प्रबंधन समिति के अध्यक्ष, सचिव एवं सदस्यों ने हिस्सा लिया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: