BiharCourt News

Bihar: विधानसभा में अवैध बालू खनन का मामला उठा

परिषद में कार्य स्थगन प्रस्ताव पर सभापति ने कहा- सदन में चर्चा हुई तो बिहार की बदनामी होगी

Patna: बिहार विधान मंडल के मानसून सत्र का आज दूसरा दिन है. बिहार विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही अवैध बालू खनन का मामला उठा. भाजपा विधायक रामप्रवेश राय ने कहा कि आम जनता के लिए अवैध बालू की समस्या कोढ़ बन गई है. बालू की दर 20 फ़ीसदी बढनी थी वह 50 फ़ीसदी बढ गई आखिर क्यों?

वहीं परिषद में कोरोना की दूसरी लहर से हुई मौत को लेकर राजद ने कार्य स्थगन प्रस्ताव लाया लेकिन सभापति अवधेश नारायण सिंह ने इसे खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि सदन में इस पर चर्चा हुई तो बिहार की बदनामी होगी.

इसे भी पढ़ें :बिहार में पीएम पैकेज की 90 योजनाओं में 18 हो चुकीं पूरी, पैकेज से अब तक 16,890 करोड़ हो गया विकास पर खर्च

विधान परिषद में कांग्रेस के एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्रा ने एंबुलेंस से जुड़ा सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि विधायक या पार्षद अपने कोष से एंबुलेंस देते हैं तो उसे चलाने की कोई व्यवस्था नहीं की जाती अगर यह व्यवस्था समय पर कर दी जाती तो सरकार को 50 एंबुलेंस मिल गए होते.

advt

जवाब में सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा कि अगर कोई माननीय एंबुलेंस देते हैं तो उसके पहले जिले के जिला अधिकारी से बात कर लें. हम सभी एंबुलेंस को लेकर नहीं चला सकते हैं.

इसे भी पढ़ें :Breaking News : क्रुणाल पांडया Corona पॉजिटिव, भारत औऱ श्रीलंका के बीच दूसरा टी-20 मैच स्थगित

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: