BiharBihar UpdatesELECTION SPECIAL

बिहार : तेजस्वी विधायक दल के नेता चुने गये,  चुनाव आयोग पर भड़के, कहा, हम हारे नहीं, हमें हराया गया है…

तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि जनादेश महागठबंधन के साथ था, लेकिन चुनाव आयोग का परिणाम एनडीए के पक्ष में रहा. कहा कि यह पहली बार नहीं हुआ है.

Patna :  तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार की जनता हमारे साथ है. हम हारे नहीं, हमें हराया गया है.  बता दें कि बिहार चुनाव नतीजे आने के बाद पटना में तेजस्वी यादव महागठबंधन विधायक दल के नेता चुने गये. इस क्रम में तेजस्वी यादव ने चुनाव आयोग पर निशाना साधा. तेजस्वी ने पोस्टल बैलट दोबारा गिनने की मांग की.

तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि जनादेश महागठबंधन के साथ था, लेकिन चुनाव आयोग का परिणाम एनडीए के पक्ष में रहा. कहा कि यह पहली बार नहीं हुआ है. 2015 में जब महागठबंधन बना था, तब वोट हमारे पक्ष में थे, लेकिन भाजपा ने सत्ता हासिल करने के लिए बैक डोर से घुसपैठ की.

इसे भी पढ़ें :  बिहार :  चिराग पासवान फैक्टर ने जदयू का किया बंटाधार…नीतीश नाराज…सीएम बनने में संकोच…

2015 में भी नीतीश कुमार ने जनादेश का अपमान किया था

तेजस्वी यादव ने कहा कि चुनाव आयोग की जिम्मेदारी है कि वह सभी उम्मीदवारों के संदेह को दूर करे. कहा कि रीकाउंटिंग की जानी चाहिए. यह बेहद जरूरी है. इसकी  रिकॉर्डिंग हमें दिखाई जानी चाहिए.  तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि 2015 में भी नीतीश कुमार ने जनादेश का अपमान किया था.

नीतीश कुमार को कुर्सी प्यारी है. नीतीश छल कपट से कुर्सी हासिल करते रहे हैं. कहा कि जनता ने हमारे रोजगार के मुद्दे को स्वीकार किया. हम जनता के फैसले का  सम्मान करते हैं. हम हारे नहीं जीते हैं और धन्यवाद यात्रा निकालेंगे. तेजस्वी यादव ने बिहार के लोगों को धन्यवाद दिया.

इसे भी पढ़ें :   नीतीश कुमार सातवीं बार बनेंगे बिहार के खेवनहार , 16 नवंबर को ले सकते हैं सीएम पद की शपथ

एनडीए और महागठबंधन के बीच 12 हजार वोटों का अंतर

  तेजस्वी यादव ने कहा कि एनडीए को एक करोड़ 57 लाख वोट मिले हैं यानी 37.3 फीसदी वोट एनडीए को मिला है. महागठबंधन को एक करोड़ 56 लाख 888 हजार 458 वोट मिले हैं. महागठबंधन को 37.2 फीसदी वोट मिले हैं. कहा कि  एनडीए और महागठबंधन के बीच 12 हज़ार वोट का अंतर है.

10 सीटों पर गड़बड़ी का आरोप

विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए कहा कि 10 सीटों पर घालमेल किया गया है.  पोस्टल बैलट की गिनती पर उन्होंने सवाल उठाया. कहा कि  अगर एनडीए सरकार ने वादे के मुताबिक काम नहीं किया तो आंदोलन करेंगे.  सरकार ने 19 लाख नौकरी नहीं दी,  बिहार के लोगों को दवाई, सिंचाई, पढ़ाई और कमाई नहीं दिया तो महागठबंधन  बड़ा आंदोलन करेगा.

इसे भी पढ़ें :   बिहार में बाजी पलटने की जुगत में तेजस्वी! नजर सीएम पद पर… वीआईपी और हम को लुभाने में जुटा राजद

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: