Bihar

बिहार राज्यसभा उपचुनाव : सुशील मोदी ने नामांकन दाखिल किया, राजद का दांव फेल, चिराग ने ऑफर ठुकराया…

लोजपा से निराशा हाथ लगने के बाद राजद अपना प्रत्याशी उतारने के मुद्दे पर बंटा हुआ है. विधानसभा अध्यक्ष के निर्वाचन में भद्द पिटने के बाद राजद के शीर्ष नेताओं ने अपने नेतृत्व को उम्मीदवार नहीं उतारने की सलाह दी है.

Patna :  सुशील मोदी ने आज बुधवार दोपहर राज्यसभा उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया.  वे 12.30 बजे आयुक्त कार्यालय पहुंचेंगे. बता दें कि उनके साथ एनडीए गठबंधन में शामिल पार्टियों के नेता सीएम नीतीश कुमार, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष संजय जायसवाल, डिप्टी सीएम  रकिशोर प्रसाद, रेणु देवी, मंगल पांडेय, नंदकिशोर यादव के साथ हम के जीतनराम मांझी और वीआईपी के मुकेश सहनी आदि  मौजूद थे

खबर है कि लोजपा ने राजद का ऑफर ठुकरा दिया है, जिसमें राजद ने कहा था कि लोजपा रामविलास पासवान की पत्नी रीना पासवान को राज्यसभा बनाये तो राजद समर्थन करेगा. लेकिन लोजपा ने राजद को नाउम्मीद कर दिया है.

इसे भी पढ़े : किसान आंदोलन का साइड इफेक्ट : उत्तर रेलवे ने रद्द की कुछ ट्रेनें, कई के रूट बदले…

राजद ने दांव खेला, पर…

बता दें कि  पहले यह सीट लोजपा के पास थी. पार्टी सुप्रीमो रामविलास पासवान के निधन के बाद यह सीट खाली हो गयी थी. उस पर अब भाजपा ने सुशील मोदी को उम्मीदवार बना दिया. जानकारों के अनुसार चिराग पासवान की कथित नाराजगी भुनाने के लिए राजद ने दांव खेला और राज्यसभा चुनाव में लोजपा को समर्थन देने की बात तक कह डाली. हालांकि, लोजपा ने इस ऑफर को ठंडे बस्ते में डाल कर राजद की मंशा पर पानी फेर दिया.

इसे भी पढ़े : दक्षिण भारत :  निवार तूफान के बाद माथे पर चक्रवाती तूफान बुरेवी का खतरा…

चिराग पासवान ने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया

खबर है कि लोजपा ने राज्यसभा उपचुनाव के लिए राजद के इस ऑफर पर आभार  व्यक्त करते हुए चिराग पासवान ने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया.  लोजपा के मीडिया प्रभारी कृष्णा सिंह कल्लू के अनुसार यह सीट लोजपा के संस्थापक स्व रामविलास पासवान की थी, इसलिए इस पर कोई चुनाव नहीं लड़ना चाहता.

राजद के शीर्ष नेताओं ने नेतृत्व को उम्मीदवार नहीं उतारने की सलाह दी है

उधर लोजपा से निराशा हाथ लगने के बाद राजद अपना प्रत्याशी उतारने के मुद्दे पर बंटा हुआ है.  सूत्रों के अनुसार विधानसभा अध्यक्ष के निर्वाचन में भद्द पिटने के बाद राजद के शीर्ष नेताओ ने अपने नेतृत्व को उम्मीदवार नहीं उतारने की सलाह दी है. लेकिन कुछ नेता राज्यसभा सीट पर एनडीए को वॉकओवर देने के मूड में नहीं हैं

इस मुद्दे पर राजद के प्रदेशाध्यक्ष जगदानंद और श्याम रजक, वृशिण पटेल और भोला यादव सरीखे नेताओं के बीच चर्चा होने की खबर है,  पर वे एक मत नहीं हैं. हालांकि श्याम रजक खुद उम्मीदवार बनना चाहते हैं, विधायकों की व्यवस्था करने की बात भी कह रहे हैं,  पर कुछ नेता इसके लिए तैयार नहीं हो रहे हैं.

जान लें कि राज्यसभा सीट पर उपचुनाव 14 दिसंबर को होना है.   अगर  मोदी के खिलाफ कोई उम्मीदवार खड़ा नहीं होगा, तो निर्णय सात दिसंबर को ही हो जायेगा.

इसे भी पढ़े : अब 3 दिसंबर को एक बार फिर सरकार और किसानों के बीच होगी बातचीत

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: