न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

RSS समेत 19 हिंदुवादी संगठनों की जानकारी जुटायेगी बिहार पुलिस

सामने आया स्पेशल ब्रांच के एसपी का लेटर

1,109

Patna: बिहार की स्पेशल ब्रांच का एक आदेश इन दिनों सुर्खियों है. स्पेशल ब्रांच के एसपी का एक पुराना लेटर सामने आय़ा है. इसमें एसपी ने हिंदू संगठनों के नाम, पता और व्यवसाय की जानकारी इकट्ठा करने के निर्देश लोकल पुलिस अधिकारियों को दिये हैं.

और इसे एसपी को भेजने को कहा है. यह आदेश मई में किया गया है. मीडिया में आयी खबर के मुताबिक लेटर 28 मई, 2019 को लिखा गया. स्पेशल ब्रांच के सभी डिप्टी एसपी को जारी लेटर में हिंदू संगठनों की जानकारी जुटाने को कहा गया है.

इसे भी पढ़ेंःगडकरी जी, अच्छी सड़क के लिये तिहरा टैक्स तो ठीक पर आपके टोल वाले लूट रहे हैं पब्लिक को

इन संगठनों की जानकारी जुटाने के निर्देश

एसपी के लेटर में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, हिंदू जागरण समिति, धर्म जागरण सम्नयव समिति, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच, हिंदू राष्ट्र सेना, राष्ट्रीय सेविका समिति, शिक्षा भारती, दुर्गा वाहिनी, स्वेदशी जागरण मंच, भारतीय किसान संघ, भारतीय मजदूर संघ, भारतीय रेलवे संघ, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, अखिल भारतीय शिक्षक महासंघ, हिंदू महासभा, हिंदू युवा वाहिनी, हिंदू पुत्र संगठन के पदाधिकारियों का नाम और पता मांगा गया है.

इसे भी पढ़ेंःहजारीबाग माइनिंग अफसर नितेश गुप्ता क्यों चाहते है कि सिर्फ मां अंबे कंपनी ही करे कोयला रैक लोडिंग

पटना पुलिस की स्पेशल ब्रांच के एसपी के नाम से लिखे गये इस पत्र में सभी लोकल पुलिस अधिकारियों, जिला विशेष शाखा पदाधिकारियों के साथ-साथ कई वरिय पुलिस अधिकारियों को भेजा गया है.

Sport House

लेटर में आगे लिखा गया कि संबंधित पुलिस अधिकारी अपने क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले आरएसएस और उसके सहयोगी संगठनों के पदधारकों (अध्यक्ष/उपाध्यक्ष, सचिव, कोषाध्यक्ष, संयुक्त सचिव आदि) के नाम, पता, फोन नंबर और व्यवसाय के संबंध में जानकारी एक हफ्ते के भीतर दें. पत्र में सभी पुलिस अधिकारियों को ये भी निर्देश दिया गया है कि वो इस काम को जरुरी समझें.

पुलिस महकमा मौन

स्पेशल ब्रांच के इस लेटर पर पुलिस महकमा मौन है. कोई भी पुलिस कर्मी या अधिकारी इस पर खुलकर बात करने को तैयार नहीं है.

हालांकि, एक पुलिस अधिकारी ने पहचान छुपानी की शर्त पर इतना ही कहा कि ये एक रुटिन टास्क है. क्राइम ब्रांच की टीम नियमित अंतराल पर ऐसी जानकारी इकट्ठा करती रहती है. वहीं बीजेपी के कुछ नेता इस तरह से आरएसएस की जानकारी जुटाने को गंभीर मसला मान रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंःबाढ़ से बेहाल बिहारः 33 लोगों की मौत, करीब 27 लाख आबादी प्रभावित

Mayfair 2-1-2020
SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like