BiharEducation & CareerLead News

बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा का रिजल्ट जारी, 80.15% परीक्षार्थियों को मिली सफलता

Patna : इंटरमीडिएट परीक्षा का रिजल्ट बुधवार को जारी किया गया है. शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने तीनों संकाय का रिजल्ट जारी किया. 13 लाख 25 हजार 749 परीक्षार्थी इंटर की परीक्षा में शामिल हुए थे. परीक्षा के 29 दिनों बाद आज बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने रिजल्ट जारी किया है. इंटर परीक्षा में 80.15% परीक्षार्थियों ने सफलता हासिल की है.

आर्ट्स में 79.53% छात्र-छात्राएं पास हुए हैं. आर्ट्स में गोपालगंज के संगम राज टॉपर बने है, जबकि साइंस में नवादा के शौरभ कुमार और कॉमर्स में पटना के अंकित कुमार गुप्ता टॉपर बने.

इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा, 2022 के विज्ञान संकाय में कुल 2,65,218 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में, 1,82,919 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में तथा 4,764 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए हैं.

Sanjeevani

इसी प्रकार, विज्ञान संकाय में कुल 4,52,901 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं, जो इस संकाय की परीक्षा में सम्मिलित परीक्षार्थियों का 79.81% है.

इसे भी पढ़ें:निवेश शुरू करने के लिए वर्तमान समय सबसे उपयुक्त समय होता है : सीए प्रवीण शर्मा

वाणिज्य संकाय का परीक्षाफल :

इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा, 2022 के वाणिज्य संकाय में कुल 60,637 परीक्षार्थी सम्मिलित हुए, जिसमें कुल 39,995 छात्र तथा 20,642 छात्राएँ थे.

इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा, 2022 के वाणिज्य संकाय में कुल 31,353 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में, 19,035 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में तथा 4.417 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए.

वाणिज्य संकाय में कुल 54,805 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं. संकाय की परीक्षा में सम्मिलित परीक्षार्थियों का 90.38% है.

इसे भी पढ़ें:South Eastern Railway: यात्रीगण ध्‍यान दें: टाटानगर-पटना-टाटानगर के ल‍िए चलेगी एक और होली स्‍पेशल ट्रेन, ये रही पूरी ड‍िटेल

टॉपर लिस्ट

  • आर्ट्स- 1. संगम राज-गोपालगंज 2. श्रेया कुमारी-कटिहार 3. ऋतिका रत्ना-मधेपुरा
  • कॉमर्स-1. अंकित कुमार गुप्ता-पटना 2. विनित सिन्हा- नवादा 3. पियूष कुमार- पटना
  • साइंस-1. शौरभ कुमार-नवादा 2. अर्जुन कुमार-औरंगाबाद 3. राज रंजन- पूर्वी चंपारण

इसे भी पढ़ें:रांची के शहर और ग्रामीण इलाकों में 165 मजिस्ट्रेट, 181 पुलिस पदाधिकारी और 1295 सशस्त्र बल की होगी प्रतिनियुक्ति, जानें क्यों…

Related Articles

Back to top button