BiharBihar Election 2020Bihar Updates

बिहार चुनाव : कांग्रेस के निशाने पर नीतीश, कहा, बिहार को पिछड़ेपन के गर्त में पहुंचा दिया

भाजपा का घोषणा पत्र झूठ का संकल्प पत्र, सुशासन के नाम पर सत्ता की सरपरस्ती में बेरोजगारी, निकम्मापन और नाकारापन परोसा गया

Patna : कांग्रेस ने भाजपा के घोषणा पत्र को ‘झूठ का संकल्प पत्र’ करार देते हुए गुरुवार को आरोप लगाया कि पिछले 15 साल में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली बिहार की जदयू-भाजपा सरकार के नाकारापन ने राज्य को सामाजिक और आर्थिक पिछड़ेपन के गर्त में पहुंचा दिया है.

Jharkhand Rai

कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के तहत नीति आयोग की सतत विकास लक्ष्य से संबंधित रिपोर्ट इस बात की गवाह है कि नीतीश कुमार सरकार ने बिहार को सामाजिक और आर्थिक पिछड़ेपन के गर्त में पहुंचा दिया है.
उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘ सुशासन के नाम पर सत्ता की सरपरस्ती में बेरोजगारी, निकम्मापन और नाकारापन परोसा गया और बिहार को बदहाली की कगार पर ला खड़ा किया. क्या ‘फिसड्डी बाबू’जवाब देंगे?’

इसे भी पढ़ेः दुर्गा पूजा पंडाल का उद्घाटन कर बंगाल का सियासी तापमान बढ़ा दिया पीएम मोदी ने

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दो करोड़ नौकरियों का वादा किया था

कांग्रेस नेता ने भाजपा के घोषणा पत्र को ‘झूठ का संकल्प पत्र’ करार दिया और कहा कि इसे कूड़ेदान में डाल देना चाहिए. उन्होंने सवाल किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दो करोड़ नौकरियों का वादा किया था, उसका क्या हुआ? बिहार को विशेष राज्य के दर्जे का क्या हुआ?

Samford

सुरजेवाला ने एक सवाल के जवाब में कहा कि एक केंद्रीय मंत्री ने बिहार को विशेष राज्य के दर्जे की बात को खारिज कर दिया है, यह अपमानजनक है और नीतीश कुमार को वोट मांगने का कोई अधिकार नहीं है.

नौकरी देने के भाजपा के संकल्प पत्र के वादे पर तंज करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि सुशील मोदी-नीतीश कुमार कहते हैं नौकरी के लिए पैसा है ही नहीं है और नौकरियां देने के लिये 58,000 करोड़ रुपये चाहिए, तब फिर इतने लोगों को रोज़गार कहां से देंगे?

इसे भी पढ़ेः बिहार चुनाव : टाइम्स नाउ और सी-वोटर के सर्वे में महागठबंधन से एनडीए सिर्फ ढाई प्रतिशत वोटों से आगे

नीतीश कुमार चुनाव हार रहे हैं

बिहार के मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जी सम्मानित नेता हैं, लेकिन जिस प्रकार से चुनावी रैली में वे युवाओं को दुत्कार रहे थे, वह बेशर्मी भरा व्यवहार ठीक नहीं है. उन्होंने कहा, नीतीश कुमार चुनाव हार रहे हैं और अपनी नाकामी और नाकारापन की खींझ युवाओं पर निकालने का प्रयास कर रहे हैं,

बिहार को बदहाली के कगार पर ला छोड़ा

कांग्रेस ने प्रेस कांफ्रेस में 2015 विधानसभा के दौरान नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार के चुनाव प्रचार के संबोधन का वीडियो क्लिप भी जारी किया जिसमें मोदी और नीतीश एक दूसरे पर निशाना साधते दिख रहे हैं. 2015 के चुनाव में जदयू ने राजद एवं कांग्रेस के साथ विपक्षी महागठबंधन में चुनाव लड़ा था.

बिहार की जदयू-भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार ने बिहार को बदहाली के कगार पर ला छोड़ा और बिहार के मुख्यमंत्री को यह तमगा कांग्रेस या महागठबंधन ने नहीं दिया बल्कि इस उपमा से स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीतीश कुमार को नवाजा था.

इसे भी पढ़ेः मुकदमे से पहले मध्यस्थता की प्रक्रिया अनिवार्य बनाने की याचिका पर SC का केन्द्र को नोटिस

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: