BiharBihar UpdatesELECTION SPECIAL

बिहार चुनाव : तेजस्वी ने शुरू किया प्रचार अभियान, कहा, पिता लालू प्रसाद को मिस करेंगे, महागठबंधन की जीत की आस  

लालू प्रसाद ने हमसे कहा है कि हम जनता के साथ खड़े रहें,  उनकी आवाज उठायें

  Patna :  पिता लालू प्रसाद को याद करते हुए  राजद नेता तेजस्वी यादव ने मंगलवार को पार्टी का चुनाव कैंपेन शुरू करते हुए कहा कि वह  बिहार विधानसभा चुनाव में अपने पिता और पार्टी के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को चुनाव प्रचार में मिस करेंगे. तेजस्वी ने इस मौके पर कहा कि इससे पार्टी के कार्यकर्ताओं में उत्साह बढ़ाने की क्षमता और पिता की उपस्थिति की कमी पार्टी को महसूस होगी.

समाचार एजेंसी ANI से बातचीत के क्रम में  तेजस्वी यादव ने कहा कि भले ही उनके पिता चुनावी कैंपेन का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं लेकिन वे इसकी पूरी अहमियत समझते हैं और इसलिए उन्होंने पार्टी के सभी नेताओं को अपना पूरा समय और ध्यान इस बार जीत हासिल करने में लगाने को कहा है.

इसे भी पढ़ें :  बिहार चुनाव : हसनपुर विधानसभा बनी हॉट सीट, तेज प्रताप यादव परचा दाखिल करने पहुंचे, नामांकन के बाद सभा का आयोजन

हम लालूजी को बहुत याद कर रहे हैं

उन्होंने कहा, ‘बिल्कुल हम लालूजी को बहुत याद कर रहे हैं. बस पार्टी के ही लोग नहीं, बिहार के लोग भी उन्हें मिस कर रहे हैं. लोगों ने पिछले विधानसभा चुनाव  में उनमें और राजद में अपना विश्वास व्यक्त किया था. कहा कि जनता की वजह से ही हम उस समय सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे थे. उन्होंने वो रास्ता बनाया, जिसपर हमसब चल रहे हैं. तेजस्वी ने कहा कि बिहार के लोगों के लिए इन चुनावों की अहमियत समझते हैं और हमसे कड़ी मेहनत करने और अपना बेस्ट देने को कहा है.

इसे भी पढ़ें :  बिहार चुनाव :  नीतीश ने कहा, वे वोट की चिंता नहीं करते, तेजस्वी पर भी तंज कसा, कुछ लोग केवल वोट ले लेते हैं लेकिन किया क्या?

चाइबासा ट्रेजरी केस में झारखंड हाईकोर्ट से जमानत मिल चुकी थी, पर 

जान लें कि लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले से जुड़े चाइबासा ट्रेजरी केस में हाल ही में झारखंड हाईकोर्ट से जमानत मिल चुकी थी, लेकिन हाईकोर्ट में एक और केस पेंडिंग होने के कारण वो जेल से बाहर नहीं आ पाये.   तेजस्वी ने बताया कि लालू प्रसाद ने हमसे कहा है कि हम जनता के साथ खड़े रहें,  उनकी आवाज उठायें. उन्होंने हमसे इस संकट की घड़ी में लोगों तक पहुंचने और उनको अच्छे वक्त और बदलाव की आशा देने को कहा है.

हमें उनकी कमी खलेगी,  उनकी ऊर्जा, विषम परिस्थितियों में लोगों का उत्साह बढ़ाने की उनकी क्षमता को हम याद करेंगे.  तेजस्वी को उम्मीद है कि उनके पिता महागठबंधन की जीत के बाद शपथ ग्रहण समारोह तक बाहर आ जायेंगे.

इसे भी पढ़ें :  उपचुनाव : भगवान का आशीष लेकर BJP की लुईस मरांडी ने दुमका सीट से भर दिया पर्चा

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: