BiharLead News

बिहार : मैट्रिक परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों को पहनना होगा चप्पल, जूता-मोजा पर रोक

Patna : बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को जूता-मोजा पहन कर परीक्षा केंद्र पर आने पर रोक लगा दी गयी है. परीक्षार्थी जूता-मोजा की जगह चप्पल पहन कर ही परीक्षा केंद्र पर प्रवेश कर सकेंगे.
वहीं परीक्षा केंद्र में मोबाइल, ब्लूटूथ, व्हाट्सएप एवं अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट ले जाने पर पूरी तरह रोक लगायी गयी है. कदाचारमुक्त मैट्रिक परीक्षा को लेकर पटना जिला के सभी अनुमंडलों मे वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2022 के अवसर पर विधि व्यवस्था के संपूर्ण प्रभार में संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी की तैनाती रहेगी.

सभी अनुमंडल पदाधिकारी को कदाचार मुक्त एवं शांतिपूर्ण परीक्षा के संचालन के लिए धारा 144 के अंतर्गत निषेधाज्ञा जारी करने एवं ग्रामीण क्षेत्रों में इसे 200 मीटर तथा शहरी क्षेत्रों में 100 मीटर की परिधि में प्रभावी रूप से लागू करने का सख्त निर्देश दिया गया है.

इसे भी पढ़ें:रूपेश पांडेय के परिजनों से मिले मंत्री मिथिलेश ठाकुर, बादल पत्रलेख और सत्यानंद भोक्ता, कहा- दोषियों पर होगी कार्रवाई

ram janam hospital
Catalyst IAS

बहरहाल मौजूदा समय में कोविड-19 के संक्रमण से सुरक्षा के लिए एहतियाती उपायों का दृढ़ता से अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश भी दिया गया है.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

इसके लिए कोविड प्रोटोकॉल के तहत मास्क का अनिवार्य प्रयोग, सोशल डिस्टेंसिंग, हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग आदि का पालन कराने का निर्देश दिया गया है. साथ ही परीक्षा संचालन के क्रम में परीक्षा केंद्र पर किसी भी स्तर पर अनावश्यक भीड़ नहीं लगाने का सख्त निर्देश दिया गया है.

इसे भी पढ़ें:सहरसा में दबंगों ने रोका स्कूल का रास्ता, सड़क पर पढ़ने को मजबूर हुए बच्चे

गौरतलब है कि 17 फरवरी से 24 फरवरी तक संचालित होगी. निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार प्रथम पाली 9:30 बजे पूर्वाहन से 12:45/ 12:15 बजे अपराहन तक एवं द्वितीय पाली 1:45 बजे अपराहन से 5:00 /4:30 बजे अपराहन तक होगी.

पटना जिला अंतर्गत कुल 74 परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं, जिसमें पटना सदर अनुमंडल में 33, पटना सिटी अनुमंडल में 13, दानापुर अनुमंडल में 10 , बाढ़ अनुमंडल में 7, मसौढ़ी अनुमंडल में 5, एवं पालीगंज अनुमंडल में 6 केंद्र हैं.

इसे भी पढ़ें:लोहरदगा बिजली विभाग के पीआरडब्लू ऑफिस में लगी आग, लाखों का ट्रांसफार्मर जल कर राख

Related Articles

Back to top button